Uncategorized

बिहार के हर गांव को किया रौशन, अब अगले साल तक देंगे हर घर को मुफ्त बिजली : नीतीश कुमार

Patna :  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को कहा कि अब बिहार के सभी 39,073 गांवों में बिजली पहुंच चुकी है. उन्होंने कहा कि राज्य के प्रत्येक घर को अगले साल के अंत तक मुफ्त बिजली कनेक्शन दिया जाएगा. बिजली संबंधी यह प्रयास कुमार के ‘सुशासन के साथ निश्चय’ में शामिल थे. कुमार ने कहा कि हमने साल 2005 में सत्ता में आने के बाद से बहुत लंबी दूरी तय की है. उस समय छोटे शहरों और गावों ने बिजली पाने की आशा छोड़ दी थीं और यहां तक कि राज्य की राजधानी पटना में भी बिजली की स्थिति सुधरने की ज्यादा उम्मीद नहीं बची थी.’’ कुमार राजग के सत्ता में आने के बाद साल 2005 में पहली बार मुख्यमंत्री बने थे. कुछ महीनों को छोड़कर नीतीश तभी से इस कुर्सी पर हैं. उन्होंने 2014 के आम चुनाव में जेडीयू की हार के बाद पद छोड़ दिया था और जीतन राम मांझी को राज्य का मुख्यमंत्री बना दिया था.

Patna :  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को कहा कि अब बिहार के सभी 39,073 गांवों में बिजली पहुंच चुकी है. उन्होंने कहा कि राज्य के प्रत्येक घर को अगले साल के अंत तक मुफ्त बिजली कनेक्शन दिया जाएगा. बिजली संबंधी यह प्रयास कुमार के सुशासन के साथ निश्चयमें शामिल थे. कुमार ने कहा कि हमने साल 2005 में सत्ता में आने के बाद से बहुत लंबी दूरी तय की है. उस समय छोटे शहरों और गावों ने बिजली पाने की आशा छोड़ दी थीं और यहां तक कि राज्य की राजधानी पटना में भी बिजली की स्थिति सुधरने की ज्यादा उम्मीद नहीं बची थी.’’ कुमार राजग के सत्ता में आने के बाद साल 2005 में पहली बार मुख्यमंत्री बने थे. कुछ महीनों को छोड़कर नीतीश तभी से इस कुर्सी पर हैं. उन्होंने 2014 के आम चुनाव में जेडीयू की हार के बाद पद छोड़ दिया था और जीतन राम मांझी को राज्य का मुख्यमंत्री बना दिया था.

इसे भी पढ़ें: संविधान और धर्मनिरपेक्षता के बारे में दिये गये बयान पर केंद्रीय मंत्री हेगड़े ने मांगी माफी

31 दिसंबर 2018 तक राज्य के सभी घरों में मुफ्त बिजली कनेक्शन देने का लक्ष्य

उसके बाद से कुमार कई मौकों पर कह चुके हैं कि बिहार में बिजली की स्थिति में सुधार उनकी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है. नीतीश यहां राज्य बिजली विभाग की ओर से आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे, जहां राज्य के सभी 39,073 गावों को विद्युतीकृत घोषित किया गया और 3,030.52 करोड़ रुपये की लागत की बिजली परियोजनाओं की आधारशिला रखी गयी. जदयू प्रमुख ने कहा कि राज्य के सभी गांवों में बिजली पहुंचाना आसान काम नहीं था. यह सड़क बनाने से कहीं ज्यादा कठिन था, लेकिन हम 2017 के अंत तक सभी गांवों में बिजली पहुंचाकर बहुत खुश हैं. हमें भरोसा है कि हम 31 दिसंबर 2018 तक राज्य के सभी घरों में मुफ्त बिजली कनेक्शन देने के लक्ष्य को हासिल कर लेंगे.’’

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button