Uncategorized

बर्दवान धमाका : 4 जेएमबी आतंकवादी गिरफ्तार

कोलकाता : राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआई) ने बुधवार को बर्दवान बम विस्फोट मामले में जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) के चार आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है। चारों आतंकवादी पश्चिम बंगाल में आंतकवादी शिविर चला रहे थे। दालिम शेख, गयासुद्दीन मुंशी, हबीबउर रहमान और मतिउर रहमान को मंगलवार रात राष्ट्रीय जांच एजेंसी के अधिकारियों ने गिरफ्तार किया था। उन्हें बुधवार को अदालत में पेश किया गया जहां से उन्हें तीन फरवरी तक एजेंसी की हिरासत में भेज दिया गया।

विस्फोट से संबंध होने के आरोप में जांच एजेंसी ने अभी तक 16 लोगों को गिरफ्तार किया है। बर्दवान के खग्रागढ़ के एक घर में हुए बम विस्फोट में दो जेएमबी आतंकवादियों की मौत हो गई थी, और एक अन्य घायल हो गया था।

एनआईए ने एक बयान में कहा, “मामले में 12 आरोपियों को हम पहले ही गिरफ्तार कर चुके हैं। इस विस्फोट से संबंध होने के आरोप में चार और लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्हें बुधवार को एनआईए की विशेष अदालत के सामने पेश किया गया है।”

जांच एजेंसी ने कहा कि बर्दवान के खग्रागढ़ जिले में हुए बम विस्फोट की जांच में खुलासा हुआ है कि आतंकवादी संगठन जेएमबी ने कई जिलों में अपना संजाल फैला रखा है। पश्चिम बंगाल के नादिया, मुर्शिदाबाद, मालदा और बीरभूम और बर्दवान, असम के बारपेटा और साहिबगंज और झारखंड के पाकुर में आतंकवादी संगठन ने अपने पैर फैला रखे हैं।

जांच एजेंसी ने कहा, “जांच में खुलासा हुआ है कि जेएमबी के वरिष्ठ सदस्यों ने मुर्शिदाबाद के बेलदांगा और मुकीम नगर, वीरभूमि के नानूर और बर्दवान के खग्रागढ़ और सिमुलिआ में आतंकवादी प्रशिक्षण शिविर और बम बनाने की इकाइयां स्थापित कर रखे थे।”

एनआईए के मुताबिक, दलीम शेख अड्डों और ठिकानों को स्थापित करने और संगठन के लिए पैसे जुटाने का काम करता था।

विस्फोट में मारे गए शकील गाजी का करीबी मतिउर रहमान मुर्शिदाबाद के बेलदांगा में आतंकवादियों के ठिकाने, प्रशिक्षण शिविर और बम निर्माण केंद्रों की देखरेख का काम करता था।

चार गिरफ्तार आतंकवादियों के साथ अदालत ने एक और प्रमुख आरोपी रजाउल करीम को अदालत ने सात दिनों की एनआईए की हिरासत में भेज दिया है।

करीम को 10 जनवरी को झारखंड के साहिबगंज जिले से गिरफ्तार किया गया था। उसके घर के 39 बम बरामद किए गए थे।

उल्लेखनीय है कि पिछले साल दो अक्टूबर को बर्दवान के खग्रागढ़ में एक घर के भीतर विस्फोट हो गया था, जिसमें जमात-उल-मुजाहिदीन, बांग्लादेश (जेएमबी) के दो आतंकवादियों की मौत हो गई थी और एक अन्य घायल हो गया था।

विस्फोट से संबंध होने के आरोप में भारत और बांग्लादेश ने कई लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें से ज्यादातर बांग्लादेशी नागरिक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button