Uncategorized

प्रख्यात कार्टूनिस्ट आर.के. लक्ष्मण नहीं रहे

पुणे : प्रख्यात कार्टूनिस्ट, आम आदमी की आवाज, आर.के. लक्ष्मण का सोमवार शाम यहां संक्षिप्त बीमारी के बाद एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। यह जानकारी उनके परिवार के एक सदस्य ने सोमवार को दी। वह 94 वर्ष के थे।

दिवंगत उपन्यासकार आर.के. नारायण के भाई लक्ष्मण के परिवार में लेखिका पत्नी कमला, सेवानिवृत्त पत्रकार पुत्र श्रीनिवास और बहू उषा हैं।

लक्ष्मण के बनाए कार्टून ‘कॉमन मैन’ कई दशकों तक द टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित हुए, जिनके जरिए उन्हें काफी ख्याति मिली। यह कार्टून 1951 से ही इस अखबार में प्रकाशित होते रहे।

श्रीनिवास ने आईएएनएस से कहा कि उन्हें लगभग 10 दिनों पूर्व एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके मूत्राशय में संक्रमण था और फेफड़े में समस्या थी। उन्होंने शाम 6.10 बजे अंतिम सांस ली।

उनकी हालत में कोई सुधार न होने पर उन्हें दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल में स्थानांतरित किया गया और पिछले रविवार (18 जनवरी) को उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया।

लक्ष्मण के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था, लेकिन इलाज का उनपर असर हुआ और वह फिर ठीक होने लगे थे। तीन दिन बाद उन्हें वेंटिलेटर से हटा दिया गया था और गहन चिकित्सा कक्ष में स्थानांतरित कर दिया गया था।

श्रीनिवास ने कहा, “पहले उन्हें एक पास के अस्पताल में 16 जनवरी को भर्ती कराया गया था, लेकिन उनकी हालत में कोई सुधार नहीं हुआ। बाद में हम उन्हें दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल ले गए, जहां उनकी हालत में आश्चर्यजनक रूप से सुधार हुआ।”

श्रीनिवास ने कहा कि लक्ष्मण की 89 वर्षीय पत्नी कमला ने अपने पति के निधन की खबर को निर्लिप्त भाव से लिया।

उन्होंने कहा, “पिछले 10 दिन अत्यंत परेशान करने वाले रहे। उनके स्वास्थ्य की अनिश्चितता से पूरा परिवार चिंतित था।”

लक्ष्मण को 2005 में पद्मविभूषण से सम्मानित किया गया था।

श्रीनिवास ने कहा कि लक्ष्मण के अंतिम संस्कार की तिथि और स्थान अभी तय नहीं है और इसकी घोषणा बाद में की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button