न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पाकुड़ : पुरानी जमीनी रंजिश में पति-पत्नी की हत्या, दोनों हत्यारोपी गिरफ्तार 

36

Pakur : जिले के अमड़ापाड़ा थाना क्षेत्र के जड़ाकी गांव के बदराटोला में पति-पत्नी जेठू हेम्ब्रम (55) और पातू मरांडी (50) सहित दो की निर्मम हत्या गांव के ही दो व्यक्तियों ने कर दी. घटना मंगलवार करीब 10 बजे की है. इस दोहरे हत्याकांड की सूचना मिलते ही इंस्पेक्टर सह थानेदार वीरेंद्र कुमार पाण्डेय तुरंत सदल-बल घटना स्थल पर पहुंचे और गांव के ही डुंगरी टोला व बदरा टोले के दोनों हत्यारोपी बड़का टुडू और मांझी टुडू को गिरफ्तार कर हाजत में डाल दिया. घटना स्थल से पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त दो धारदार हथियार भी बरामद किया है. पुलिस ने दोनों शव को अपने कब्जे में ले लिया है.

इसे भी देखें- रांची : रिम्स से एम्स के लिये रवाना हुए लालू यादव, एक झलक पाने को बेताब दिखे समर्थक  

धारदार हथियार से गले पर वार कर की गयी दोनों की हत्या

आरोपियों से पूछताछ करती पुलिस

मृतक के पुत्र कमल हेम्ब्रम ने बताया कि घटना के दौरान मेरा छोटा भाई अनूप हेम्ब्रम घर पर था. हमलोग महुआ चुनने जंगल गए हुए थे. हत्या की वजह के संबंध में पूछे जाने पर बताया कि वर्षों पुरानी जमीनी रंजिश हत्या की वजह हो सकती है. मृतक के पुत्र अनूप हेम्ब्रम ने बताया कि दोनों आरोपी घर पर पहुंचे और मेरे पिता को बुलाया. पिता के साथ मां भी बाहर निकली. दोनों आरोपी और पिता के साथ बात होने लगी. आरोपियों ने अचानक पिता पर धारदार हथियार से हमला किया, जिसके बाद मेरे पिता घर के आगे खेत की ओर भागे, मां भी पिता को बचाने के लिए पीछे दौड़ी. आरोपियों ने धारदार हथियार ने मेरे मां-पिता के गले पर वार किया जिससे घटना स्थल पर ही दोनों की मौत हो गई. अनूप ने बताया कि मैं जबतक कुछ समझ पाता दोनों की हत्या हो चुकी थी. घटना को लेकर गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है. ग्रामीण कुछ भी बोलने से परहेज करते रहे हैं. थानेदार ने बताया कि इस दोहरे हत्याकांड की जांच हर पहलू को ध्यान में रखकर की जा रही है. गिरफ्तार आरोपियों पर आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जायेगी.

इसे भी देखें- राजस्व विभाग के पदाधिकारियों के भ्रष्टाचार को जायज ठहराने के लिए सरकार बना रही है कानून

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: