न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पाकिस्तान के लिए जासूसी कर रहे युवक को सेना की इंटेलीजेंस यूनिट ने पकड़ा 

47

New Delhi :  पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के लिए जासूसी कर रहे एक युवक को पंजाब में गिरफ्तार किया गया है. उसे सेना की इंटेलीजेंस यूनिट व  पंजाब खुफिया इकाई के संयुक्ते ऑपरेशन में पकड़ा गया है.  इस ऑपरेश न से आईएसआई के इशारे पर चल रहे जासूसी गिरोह का खुलासा हुआ है. पंजाब के मोगा जिले के धलेके गांव के निवासी युवक रवि कुमार इस मामले में पकड़ाया है. आरेाप है कि वह कथित तौर पर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के लिए जासूसी कर रहा था.  जानकारी दी गयी है कि उसके पास से प्रतिबंधित क्षेत्रों के हाथ से बने नक्शे,  सेना के ट्रेनिंग मैनुअल्स की प्रतिबंधित फोटोकॉपी, सेना के महत्त्वपूर्ण प्रतिष्ठानों व सेना के वाहनों की आवाजाही की फोटो सहित अन्य दस्तावेज मिले है.

इसे भी पढ़ें – न्यायपालिका और सरकार के बीच किसी भी तरह का भाईचारा लोकतंत्र के लिए मौत की घंटी : जस्टिस चेलामेश्वर

आईएसआई ने फेसबुक से उसे ट्रैप कर सात माह पूर्व भर्ती किया था  

सेना के इंटेलीजेंस की इनपुट के आधार पर इंस्पेक्टर गुरिंदर पाल के नेतृत्वत में  बनी टीम ने अमृतसर के चट्टिविंद पुलिस स्टेशन के इलाके से उसे गिरफ्तार किया.ऑफीशियल सीक्रेट एक्ट की धारा 3,4,5 और 9 के तहत व आईपीसी की धारा 120- बी के तहत उस पर गुरुवार को  एफआईआर दर्ज करी गयी है.  जानकारी दी गयी है कि आईएसआई के एक अधिकारी ने फेसबुक से उसे ट्रैप कर सात माह पूर्व भर्ती किया था. 

इसे भी पढ़ें – कर्नाटक: पोस्टकार्ड न्यूज पोर्टल के संपादक महेश हेगड़े फर्जी खबर चलाने के आरोप में गिरफ्तार, ट्विटर पर पीएम मोदी भी करते हैं फॉलो

पाकिस्तानी एजेंसियों ने लड़कियों के नाम से कई फेक फेसबुक एकाउंट बना रखे हैं

खबरों के अनुसार  पाकिस्तानी एजेंसियों ने लड़कियों के नाम से कई फेक फेसबुक एकाउंट बना रखे हैं.  इसके माध़्रयम से वे बेरोजगार युवकों सहित सेवारत और रिटायर्ड सेना के अधिकारियों से दोस्ती गांठ कर जासूसी गतिविधियों में शामिल होने के लिए फंसाते है.  एजेंसियां इन नकली एकाउंट्स की पहचान और उन्हें ट्रैक करने की कोशिश कर रही हैं. रवि कुमार मोबाइल फोन और इंटरनेट के माध्यम से पाकिस्तान खुफिया अधिकारियों के साथ नियमित रूप से संपर्क में था. दुबई रूट से उसे पैसा भेजा जाता था. उसे कहा गया था कि वह सेना की गतिविधियों, भारतीय क्षेत्र में बॉर्डर पर बनाये जाने वाले नये बंकरों की जानकारी दे. वह पाकिस्तानी अधिकारियों को इसी तरह की जानकारियां दे रहा था.  बताया गया कि  20 से 24 फरवरी के बीच वह आईएसआई के खर्च पर दुबई गया था,  वहां उसे काम दिया गया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: