न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू पहुंची अज्ञात बीमारी, हर दिन दम तोड़ रहे मवेशी

18

NEWSWING

Daltonganj, 01 December : पलामू जिले के चैनपुर प्रखंड क्षेत्र में इन दिनों गलाघोंटू सहित अन्य अज्ञात बीमारियों ने पांव पसार ली है. इससे लगातार मवेशियों की मौत हो रही है. मवेशियों की मौत से पशुपालकों में हड़कंप मचा हुआ है. वे हर दिन आतंकित नजर आ रहे हैं. अबतक एक दर्जन से अधिक मवेशियों की मौत हो चुकी है और आधा दर्जन से अधिक मवेशी बीमार हैं. उन्हें स्वस्थ करने के लिए चिकित्सकों की टीम प्रयासरत है.

एक पखवारे में दर्जनों मवेशियों की हुई मौत

चैनपुर प्रखंड के कोसिआरा, मझिगांवा, पूर्णामझिगांवा, लिधकी आदि गांवों में एक पखवारे के दौरान एक दर्जन से अधिक दूधारू मवेशियों की मौत हो गयी है. कोसियारा गांव में सबसे अधिक मवेशियों ने दम तोड़ा. प्रभावित गांव कोसियारा से सटा हुआ है. ऐसी उम्मीद की जा रही है कि बीमार मवेशियों से यह बीमारी फैली है.

ब्लड और फूड सैंपल की हो रही जांच

चैनपुर की भ्रमणशील पशु चिकित्सा पदाधिकारी डॉ संगीता कुमारी ने बताया कि अबतक के लश्रणों से पता चला है कि मवेशियों को सर्रा, गलाघोंटू या फिर कोल्ड एक्सपोजर की बीमारी हुई है. यह लार से फैल रही है. मवेशियों के ब्लड और फूड सैंपल ले लिए गए हैं और उसे जांच के लिए रांची भेजा जा रहा है. बीमार मवेशियों को ठीक करने के लिए जिलास्तर पर टीम गठित कर इलाज किया जा रहा है. इंजेक्शन दिये जा रहे हैं.

आजीविका के साधन हैं मवेशी

चैनपुर प्रखंड क्षेत्र में आजीविका के साधन मवेशी ही हैं. इस इलाके में बड़ी संख्या में दूधारू मवेशियों का पालन-पोषण किया जाता है. दूध के कारोबार से कई घरों का चूल्हा जलता है. एक अनुमान के अनुसार जिला मुख्यालय डालटनगंज के अधिकतर होटलों, चाय दुकानों सहित अन्य प्रतिष्ठानों में चैनपुर के दूध, पनीर आदि की सेल होती है.

विधायक ने किया प्रभावित गांवों का दौरा

क्षेत्रीय विधायक सह वन विकास निगम के अध्यक्ष आलोक कुमार चौरसिया ने पशु चिकित्सकों के साथ प्रभावित गांवों का दौरा किया और स्थिति की जानकारी ली. विधायक ने कहा कि  जिला पशुपालन पदाधिकारी को तत्काल इसपर राहत पाने का निर्देश दिया गया है. उन्होंने कहा कि इस इलाके में मवेशी ही किसानों की आजीविका के साधन हैं, उसकी क्षति नहीं होने दी जायेगी. पशुओं में किसी तरह की बीमारी की पहचान होने पर तत्काल पशु चिकित्सक को जानकारी दें.

ये थे मौजूद

विधायक के साथ पशु चिकित्सक डॉ संगीता कुमारी, डॉ रमेश प्रसाद, डॉ आरपी राव, डॉ आरएस प्रसाद, डॉ मनोज प्रसाद, पूर्व जिला पार्षद रामलव प्रसाद चौरसिया, कमलेश प्रसाद, संजू चौरसिया, ज्ञानधन चौरसिया, राधेश्याम चौरसिया, भीष्म चौरसिया भी उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: