न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू के ओबरा में आपसी विवाद में जेसीबी में लगायी आग, जांच में जुटी पुलिस

96

Daltonganj : पलामू जिले के पांडू थाना क्षेत्र अंतर्गत ओबरा गांव में आपसी विवाद में तालाब जीर्णोद्धार कार्य में लगे जेसीबी को जलाकर नष्ट कर दिया गया. इस घटना में पास रखे पुआल भी जलकर नष्ट हो गए. घटना के संबंध में तीन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है. आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी तेज कर दी गयी है. जिला के एसपी इन्द्रजीत माहथा ने बताया कि मंगलवार की सुबह सूचना मिली कि ओबरा गांव में जेसीबी जला दिया गया है. जिससे पास के खलिहान में रखे पुआल भी जलकर नष्ट हो गए हैं. मामले की जांच के लिए डीएसपी हीरालाल रवि के नेतृत्व में पांडू थाना प्रभारी स्वप्न कुमार मेहता को मौके पर भेजा गया.

इसे भी पढ़ेंः गुजरात, हिमाचल में बीजेपी की जीत पर बोले हेमंत – जल्दी ही यह टाइटेनिक की नांव डूब जायेगी

इसे भी पढ़ेंः ऐसी है राजधानी की पुलिसः शिकायत दर्ज कराने के लिए दो थानों का चक्कर लगाती रही छात्रा, सीनियर अफसरों ने भी नहीं उठाया फोन

ठेकेदार का संबंधियों के साथ हुआ था विवाद

Related Posts

पूर्व सीजेआई आरएम लोढा हुए साइबर ठगी के शिकार, एक लाख रुपए गंवाये

साइबर ठगों ने  पूर्व सीजेआई आरएम लोढा को निशाना बनाते हुए एक लाख रुपए ठग लिये.  खबर है कि ठगों ने जस्टिस आरएम लोढा के करीबी दोस्त के ईमेल अकाउंट से संदेश भेजकर एक लाख रुपए  की ठगी कर ली.

SMILE

जांच में सामने आया कि ओबरा गांव स्थित खैराही बांध का लघु सिंचाई प्रमंडल से श्रीजल इण्टरप्राइजेज प्रा. लि. जीर्णोद्धार का काम कर रही है. स्थानीय स्तर पर ठेकेदार सुरेन्द्र सिंह इस कार्य की देखरेख कर रहे थे. एक सप्ताह पूर्व सुरेन्द्र सिंह के संबंधी उमाशंकर सिंह, मिथुन सिंह और दीपक सिंह से बांध निर्माण को लेकर विवाद हुआ था. उमाशंकर सिंह ने आरोप लगाया था कि जीर्णोद्धार कार्य से उनकी जमीन डूब रही है, इसलिए बिना पैसा दिए काम नहीं होने देंगे. उमाशंकर सिंह ने निर्माण कार्य रोका था और मजदूरों को धमकी देकर भगा दिया था. हालांकि बाद में बीच बचाव कर पुनः कार्य शुरू किया गया, परन्तु मांगा गया पैसा सुरेन्द्र द्वारा नहीं दिया गया. उन्होंने कहा कि जांच से ऐसा प्रतीत होता है कि सुरेन्द्र द्वारा पैसे नहीं देने के कारण उमाशंकर, मिथुन और दीपक ने जेसीबी जलाया है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: