न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : कस्तूरबा विद्यालय की बीमार छात्रा इलाज के अभाव में हुई बेहोश

38

Daltonganj : पलामू जिले के पांकी प्रखंड के जरही चौक स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय अव्यवस्था का  शिकार हो गया है.  इस विद्यालय के संचालन में न तो शिक्षा विभाग सक्रियता दिखा रहा है और न ही विद्यालय में नियुक्त वार्डन और शिक्षिका ही अपनी जिम्मेदारियों पर खरा उतर पा रही है. पांकी में संचालित कस्तूरबा गांधी विद्यालय में कुछ इसी तरह की स्थिति बनी हुई है.  यहां छात्राएं रसोइया और चौकीदार के भरोसे रह गयी हैं;  शुक्रवार को इसकी एक बानगी देखने को मिली. बीमार छात्रा संगीता कुमारी घंटों बेहोश रही.  जबकि विद्यालय में न तो वार्डन मौजूद थी और न ही कोई शिक्षिका.
विद्यालय में मौजूद रसोईया शीला देवी व चौकीदार विश्वनाथ सिंह ने अपनी सूझबूझ का परिचय देते हुए बाहर रास्ते से गुजर रहे ग्रामीण चंदन कुमार की सहायता से उसे समय पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पांकी लाये. वहां मौजूद डॉक्टर किरण कुमारी  छात्रा की हालत देखते हुए तुरंत इलाज में लग गयी. 

इसे भी पढ़ें – पलामू: तीसरे बच्चे ने रद्द करवाया प्रत्याशियों का नामांकन, 13 नोमिनेशन कैंसल

गुरुवार की शाम से ही संगीता को था तेज बुखार

रसोईया शीला देवी ने बताया कि संगीता कुमारी को गुरुवार की शाम से ही तेज बुखार था. इस कारण शुक्रवार की सुबह अचानक वह बेहोश हो गयीं. उस समय विद्यालय में न तो वार्डन मौजूद थी और न ही कोई अन्य शिक्षिका. बीमार छात्रा के साथ विद्यालय की रसोईया व कक्षा बारहवीं की छात्रा जूही कुमारी व चौकीदार विश्वनाथ सिंह साथ आये थे.  जूही कुमारी ने बताया कि कल शाम को उसकी तबीयत अचानक खराब हो गयी, जिसके बाद उसे दवा भी दी गयी थी. लेकिन अचानक आज सुबह वह बेहोश हो गयी. छात्र जूही ने यह भी बताया कि विद्यालय में शिक्षिकाएं समय से नहीं आती हैं.  शिक्षिकाएं कक्षा संचालित नहीं करती हैं और न ही मेनू के अनुसार भोजन दिया जाता है.  उसने यह भी कहा कि  दूध 15 दिनों से बंद है. रसोईया शीला देवी ने बताया कि अंडा व मांस-मछली छह महीने पहले छात्राओं को दिये गये थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: