न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : एनएच चौड़ीकरण के नाम पर संवेदक ने उखाड़े कई हरे पेड़ (देखें वीडियो)

72

NEWSWING

Daltonganj, 10 December : प्रदूषण की समस्या से जूझ रहे देश में हर तरफ पौधरोपण पर जोर दिया जा रहा है. लेकिन पलामू जिले में बिना वन विभाग से एनओसी लिए सड़क चौड़ीकरण के बहाने दर्जनों पेड़ को उखाड़ दिया गया है. पेड़ उखाड़ने के साथ-साथ सड़क निर्माण में लगे संवेदक जगह-जगह सड़क में हुए गड्ढों को भरने के लिए वन क्षेत्र से अवैध उत्खनन भी कर रहा है. मामले को लेकर वन विभाग के पदाधिकारी भड़क गए हैं और पथ निर्माण विभाग से शिकायत की है.

उखाड़ दिये गये हैं 10 किमी तक के सारे पेड़

दरअसल, जिले के नक्सल प्रभावित छत्तरपुर में सड़क चौड़ीकरण और मजबूती करण के नाम पर संवेदक द्वारा दर्जनों पेड़ उखाड़ लेने का मामला सामने आया है. प्राप्त जानकारी के अनुसार छत्तरपुर के बरडीहा मोड़ से करमाचराई तक 19 किलोमीटर सड़क का निर्माण कार्य हो रहा है. सड़क चौड़ीकरण के नाम पर अब तक 10 किलोमीटर तक के सारे पेड़ और पत्थर उखाड़ दिये गये हैं. इसकी पुष्टि छत्तरपुर के वन पदाधिकारी ने भी की है. छत्तरपुर पूर्वी के वन पदाधिकारी अशोक कुमार दास ने इस सिलसिले में पथ निर्माण विभाग और ग्रामीण विकास विभाग के कार्यपालक अभियंताओं को पत्र लिख कर इसकी शिकायत की है. साथ ही अपनी आपत्ति भी दर्ज करायी है. 

पेड़ कटने से जनता में आक्रोश

वन क्षेत्र पदाधिकारी ने कहा है कि छत्तरपुर और नावाबाजार वन अंचल में कौन-कौन सी सड़कों का निर्माण किया जा रहा है, इसकी सूचना विभाग को प्राप्त नहीं है. संवेदकों द्वारा हरे-हरे वृक्षों का पतन अवैध रूप से किया जा रहा है, जिससे जनता में आक्रोश है. संवेदकों द्वारा एनओसी, नक्शा आदि भी नहीं दिखाया जा रहा है. उन्होंने कार्यपालक अभियंताओं से आग्रह किया है कि एनओसी और नक्शा उपलब्ध करायी जाये, ताकि अग्रेतर कार्रवाई की जा सके. उन्होंने पेड़ काटने संबंधित स्थिति भी स्पष्ट करने का आग्रह किया है. साथ ही एनओसी प्राप्त होने तक वन भूमि में कार्य स्थगित रखने का आदेश जाराी करने की भी अपील की गयी है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: