न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

परीक्षा से निष्कासन पर पहुंचा आघात, छात्र ने दे दी जान

15

Daltonganj : मैट्रिक परीक्षा के दौरान कदाचार के आरोप में पकड़े जाने पर एक युवक को इतना गहरा आघात पहुंचा कि उसने अपनी जीवन लीला ही समाप्त कर ली. पुलिस को सूचना दिए बगैर उसके परिजनों ने उसके शव का दाह संस्कार भी कर दिया है. जिले के नौडीहा बाजार प्रखंड अंतर्गत लक्ष्मीपुर पंचायत के महुअरी निवासी पप्पू सिंह के पुत्र संजीत कुमार सिंह ने मैट्रिक परीक्षा में कदाचार के आरोप में पकड़े जाने पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. संजीत कुमार सिंह गत 12 मार्च को नौडीहा बाजार प्रखंड के नामूदाग मध्य विद्यालय में गणित विषय की परीक्षा दे रहा था. इसी क्रम में नौडीहा बाजार के प्रखंड विकास पदाधिकारी अभय कुमार ने संजीत को कदाचार करते पकड़ा था और परीक्षा से निष्कासित कर दिया था. घटना के बाद से संजीत सदमे में था और उखड़ा-उखड़ा नजर आ रहा था. हर दिन की तरह भोजन करने के बाद संजीत अपने कमरे में चला गया, लेकिन सुबह कमरे से नहीं निकला और रात में संजीत ने फांसी लगाकर आत्महत्या जान दे दी. अगले दिन उसका शव उसके कमरे में फंदे से लटकता पाया गया था.

इसे भी देखें- पलामू: नकल में बाधक सीसीटीवी कैमरों पर आफत, काटा गया केबल

घटना के दिन परिजन शादी समारोह में गये थे

घटना के समय घर के अधिकतर सदस्य शादी समारोह में भाग लेने गए थे. केवल उसकी बहन ही घर पर थी. 13 मार्च को जब संजीत ने दरवाजा नहीं खोला तो उसकी बहन को कुछ शक हुआ. बाद में अगल-बगल के लोगों को जुटाकर दरवाजा तोड़ा गया तो संजीत फंदे पर लटकता पाया गया. जिसके बाद घर में कोहराम मच गया. घटना की सूचना पर मिलने संजीत के परिजनों ने पुलिस को बिना बताये मंगलवार को शव का अंतिम संस्कार कर दिया. आत्महत्या जैसे मामलों में पुलिस को सूचना नहीं देने पर कार्रवाई का प्रावधान है. हालांकि पुलिस के किसी अधिकारी ने इस संबंध में कोई बयान नहीं दिया है. मृतक के पिता पारा शिक्षक हैं. संजीत ने नौडीहा अपग्रेडेड उच्च विद्यालय से परीक्षा फार्म भरा था, जिसका सेंटर नामूदाग मध्य विद्यालय था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: