Uncategorized

नक्सलग्रस्त झारखण्ड के बच्चे नहीं घूम पा रहे अपना देश, यह दुर्भाग्य है : CRPF कमांडेंट

Latehar :  सीआरपीएफ कमांडेंट पंकज कुमार ने कहा कि नक्सलग्रस्त झारखण्ड के बच्चे अपना देश तक नहीं घूम पा रहे हैं, यह दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि सुरक्षा बल सीआरपीएफ 11 बी ने अपने कार्यक्षेत्र में नक्सल अभियान तो चला ही रही है. साथ ही उर्जावान और उत्साहित युवक-युवतियों को सिविक एक्शन कार्यकर्म के तहत झारखण्ड से बाहर जाने का मौका भी देती है. सीआरपीएप का मानना है कि ऐसा करने से वे देश के विभिन्न क्षेत्रों में जा कर देख सकें कि दूसरे राज्य के युवक-युवतियां अपने कौशल को कैसे विकसित कर रहे हैं. कमांडेंट पंकज कुमार युवा कार्यकर्म एवं खेल मंत्रालय नेहरू युवा केंद्र द्वारा आयोजित जिला स्तरीय सांस्कृतिक कार्यकर्म एवं ब्लाक युवा संसद कार्यकम में बोल रहे थे.

इसे भी पढ़ें- चारा घोटाला में लालू प्रसाद दोषी करार, सजा पर फैसला 3 जनवरी को, जगन्नाथ मिश्रा बरी

इसे भी पढ़ें- सुषमा बड़ाईक यौन शोषण मामले में आरोपी पूर्व आईजी पीएस नटराजन बरी

2015 से सीआरपीएफ कर रहा सहयोग

कार्यक्रम में जिला भर से आये युवक-युवतियों ने सामूहिक लोक नृत्य, संगीत, भजन आदि प्रस्तुत किया. इस दौरान युवाओं में काफी काफी उत्साह था. सीआरपीएफ 11 बी वर्ष 2015 से नेहरू युवा केंद्र को सिविक एक्शन कार्यकर्म के तहत सहयोग कर रही है. दोनों के संयुक्त तत्वावधान में नक्सल ग्रस्त लातेहार जिला के युवा दस-दस दिन के लिए दूसरे राज्यों में जाते हैं और अपनी संस्कृति और भाषा का आदान-प्रदान करते है.

इसे भी पढ़ेंः राजस्थान सरकार सोलर पावर 2.74 रुपए प्रति यूनिट खरीदेगी और झारखंड में रेट 4.95 रुपए प्रति यूनिट

ये थे शामिल

इस मौके पर लातेहार अनुमंडल पदाधिकारी जय प्रकाश झा, जिला परिषद अध्यक्ष सुनीता सिंह सीआरपीएफ निरीक्षक राकेश कुमार नेहरू युवा केंद्र की समन्वयक ललिता देवी और रामाशीष चौधरी एवं जिला भर के युवक-युवतियां शामिल थे.

इसे भी पढ़ेंः फासीवादी ताकतों से झारखंड को बचाने के लिए बाबूलाल मरांडी से समझौता हो सकता है विकल्प : आप नेता

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button