Uncategorized

दिल्ली : आप के पूर्व विधायक भाजपा में शामिल

नई दिल्ली : राजधानी दिल्ली के अंबेडकर नगर से विधानसभा क्षेत्र से आम आदमी पार्टी (आप) के पूर्व विधायक अशोक कुमार चौहान ने शनिवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम लिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि आप में उन्हें घुटन महसूस हो रही थी इसीलिए उन्होंने पार्टी छोड़ने का फैसला लिया। चौहान, दिसंबर 2013 के विधानसभा चुनाव में आप के टिकट पर चुनाव जीते थे। चौहान ने अंबेडकर नगर से चार बार विधायक रहे कांग्रेस के दिग्गज नेता चौधरी प्रेम सिंह को 16,486 मतों से हराया था।

चौहान ने कहा, “आप में मैं घुटन महसूस कर रहा था और इसीलिए मैंने पार्टी छोड़ने का फैसला किया। मुझे लगता है कि भाजपा मेरी प्रतिभा का अच्छी तरह से लाभ उठाएगी। उन्होंने कहा कि आप अपने मार्ग से भटक गई है।”

उन्होंने कहा, “मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में काम करना चाहता हूं।”

दलित समुदाय से आने वाले चौहान ने कहा कि आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने वाल्मीकि समुदाय के साथ ‘विश्वासघात’ किया है और चुनाव से पहले किए गए वादों को भी उन्होंने पूरा नहीं किया।

उन्होंने कहा, “वाल्मीकि समुदाय आप के साथ बड़ी आशाओं के साथ जुड़ा था, लेकिन आज वे ठगा महसूस कर रहे हैं। दलित समुदाय से आने वाले पार्टी कार्यकर्ता पार्टी नेतृत्व से निराश हैं। आप ने वाल्मीकि समुदाय को उनकी पहचान दिलाने में कोई मदद नहीं की।”

खबरे आई थीं कि आप चौहान से इस कारण नाराज थी क्योंकि वह सिंतबर में पार्टी के दो अन्य नेताओं के साथ गोवा में भाजपा नेतृत्व से मिलने गए थे।

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही आप नेता एम. एस. धीर और अश्विनी उपाध्याय भाजपा में शामिल हुए थे।

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और दिल्ली प्रभारी प्रभात झा ने कहा, “पिछले साल दिल्ली के कई समुदायों ने बड़ी आशाओं के साथ आप का समर्थन करते हुए उसे वोट दिया था, लेकिन पार्टी ने स्वार्थ की राजनीति की।”

चौहान के साथ कांग्रेस की राज्य इकाई के पूर्व सचिव राहुल राजपाल भी भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए। आईएएनएस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button