न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

डाल्टनगंज: शुरू हुआ बालू घाटों का सीमांकन, दायरे में बालू उठाव का निर्देश

15

News Wing
Daltonganj, 28 November:
नक्सल प्रभावित पलामू जिले में बालू की तस्करी की लगातार मिल रही शिकायत के बाद खनन टास्क फोर्स की निर्देश पर बालू घाटों का सीमांकन शुरू करा दिया गया है. बालू ठेकेदारों को तय क्षेत्र के भीतर से बालू का उठाव करने और सरकारी चालान हर दिन और प्रत्येक ट्रिप पर काटने का निर्देश दिया है, ताकि सरकार को राजस्व प्राप्त हो सके.

सीमांकन के दैरान खनन विभाग के अधिकारी नहीं थे मौजूद

पलामू जिला मुख्यालय डालटनगंज से सटे चैनपुर प्रखंड के शाहपुर दक्षिणी बालू घाट की सीमांकन मंगलवार की सुबह में की गयी. बड़ी संख्या में मजदूरों को लगाकर संभावित बालू उठाव एरिया को लाल झंडा लगाकर चिन्हित किया गया. बालू का उठाव चिन्हित क्षेत्र से ही करना होगा. इस एरिया से बाहर बालू का उठाव वर्जित रहेगा. हालांकि सीमांकन के दौरान खनन विभाग का कोई पदाधिकारी वहां नजर नहीं आया. मजदूर और कर्मी एक अनुमान के अनुसार लाल झंडा लगाते दिखे.

फर्जी निजी रसीद से बालू का  किया जा रहा था उठाव

विदित हो कि जिले के विभिन्न बालू घाटों पर बालू की तस्करी की सूचना मिलने पर पिछले दिनों टास्क फोर्स द्वारा कार्रवाई की गयी थी. चैनपुर के शाहपुर उतरी बालू घाट पर बड़े पैमाने पर अनियमितता सामने आयी थी. चालान की जगह फर्जी निजी रसीद से बालू का उठाव किया जा रहा था. बालू को बाहर के पड़ोसी राज्यों में भेजने का मामला सामने आने के बाद टास्क फोर्स ने कार्रवाई करते हुए बालू संवेदक शिव प्रसाद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था और घाट को बंद करा दिया था.

silk_park

घाटों पर लगाए गये लाल झंडे

इसके साथ ही यह निर्देश जारी किया गया था कि जिले में जो भी बालू घाट वैद्य हैं, वे अपने एरिया का सीमांकन करेंगे और उसके बाद सरकार द्वारा निर्धारित नियम के अनुसार बालू का उठाव करेंगे. सरकारी चालान काटने के साथ-साथ बालू का उठाव मैनुअली करने और तस्करी नहीं करने का निर्देश जारी किया गया था. इस निर्देश के बाद शाहपुर दक्षिणी बालू घाट पर आधा दर्जन लोग लाल झंडे लगाते देखे गए. टास्क फोर्स से जुड़े सदर सीओ शिवशंकर पांडेय ने बताया कि शाहपुर में जमीरूद्दीन अंसारी के बंदोबस्त बालू घाट करीब छह एकड़ में सीमांकन किया गया है, जिसका प्लाट नंबर 1621 और 1622 है. उन्होंने कहा कि बालू घाट पर लगाए गए लाल झंडे के भीतर ही बालू का उठाव करने का निर्देश दिया गया है. इससे बाहर करने पर बंदोबस्ती रद्द कर कार्रवाई की जायेगी. उन्होंने कहा कि सरकारी चालान भी हर ट्रिप के साथ काटने का निर्देश दिया गया है, ताकि राजस्व की प्राप्ति हो सके. अन्य बालू घाटों पर भी सीमांकन कार्य शुरू किया गया है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: