न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

ट्विटर पर प्रधानमंत्री मोदी के 2 करोड़ 44 लाख फॉलोअर्स फर्जी, ट्विटर ऑडिट के जरिये खुलासा

41

New Delhi: सोशल नेटवर्किंग साइट आज की तारीख में लोकप्रियता का एक बड़ा पैमाना है. जितने ज्यादा फॉलोअर्स उतने लोकप्रिय नेता या अभिनेता. ट्विटर भी उन्हीं सोशल साइट्स में आता है. लेकिन अगर आपको पता चले की आप जिनके फैन है, उनके ट्विटर पर आधे से ज्यादा फॉलोर्अस फेक हैं, तो आपको झटका जरुर लगेगा. इस फेक फॉलोअर्स की फेहरिस्त में देश के प्रधानमंत्री मोदी का अकांउट सबसे आगे है. जी हां, नरेंद्र मोदी दुनिया में सबसे ज्यादा फर्जी फॉलोअर्स वाले नेता बन गये है.

mi banner add

इसे भी पढ़ें:प्रधानमंत्री कार्यालय ने घाटे में चल रही एयर इंडिया का 118.72 करोड़ नहीं चुकाया

इसे भी पढ़ें:छत्तीसगढ़ः सुकमा में नक्सलियों ने किया बारूदी सुरंग विस्फोट, सीआरपीएफ के नौ जवान शहीद, पांच घायल

क्या कहता है ट्विटर ऑडिट ?

twitter

ट्विटर के हालिया ऑडिट के मुताबिक नरेंद्र मोदी के अकाउंट्स को फॉलो करने वाले 61 प्रतिशत फॉलोअर्स फर्जी हैं. प्रधानमंत्री के कुल 4 करोड़ फॉलोअर हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के 61 लाख 15 हजार फॉलोअर हैं, जिनमें से 69 फीसदी फेक हैं. वहीं, 1 करोड़ से ज्यादा फॉलोअर्स वाले अमित शाह के 67 फीसदी फॉलोअर्स फेक हैं. सोशल मीडिया पर खासे ऐक्टिव रहने वाले कांग्रेस लीडर शशि थरूर के भी 62 फीसदी फॉलोअर फेक हैं. फर्जी फॉलोअर्स की सूची में अभिनेता रजनीकांत सबसे पीछे है. ट्वीटर पर उनके 26 प्रतिशत फॉलोअर्स नकली है.

Related Posts

पूर्व सीजेआई आरएम लोढा हुए साइबर ठगी के शिकार, एक लाख रुपए गंवाये

साइबर ठगों ने  पूर्व सीजेआई आरएम लोढा को निशाना बनाते हुए एक लाख रुपए ठग लिये.  खबर है कि ठगों ने जस्टिस आरएम लोढा के करीबी दोस्त के ईमेल अकाउंट से संदेश भेजकर एक लाख रुपए  की ठगी कर ली.

डॉनल्ड ट्रंप के 26 फीसदी फॉलोअर्स फर्जी 
ट्विटर पर फेक फॉलोअर्स का मामला अकेले भारत में ही नहीं है, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी ऐसी कई हस्तियां हैं. अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के 26 फीसदी ट्विटर फॉलोअर्स फर्जी है. जबकि ईसाइयों के सबसे बड़े धर्मगुरु पोप फ्रांसिस के भी 48 फीसदी ट्विटर फॉलोअर्स फेक हैं. हिलरी क्लिंटन के 31 फीसदी और डॉनल्ड ट्रंप के 26 फीसदी फॉलोअर्स फर्जी हैं. 

इसे भी पढ़ें:चीन में आज अमेरिका को चुनौती देने की ताकत, रक्षा खर्च देश पर बोझ नहीं : जनरल बिपिन रावत 

कैसे काम करता है ट्विटर ऑडिट? 
ट्विटर ऑडिट की वेबसाइट के मुताबिक इस टूल के जरिए 5,000 फॉलोअर्स का सैंपल लिया जाता है और उनका ट्वीटस, फॉलोअर्स, म्युचूअल फॉलोज और अन्य पैरामीटर्स के आधार पर आकलन किया जाता है. इससे पता चलता है कि कितने ट्विटर फॉलोअर फेक हैं और कितने वास्तविक. हालांकि यह एकदम सटीक तरीका नहीं है, लेकिन काफी हद तक इससे हकीकत पता चल सकती है. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबु और ट्विट पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: