न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ट्रैफिक जाम से नहीं मिल रही निजात, विपक्ष ने ली चुटकी : सीएम से ट्रैफिक नहीं संभलता तो राज्य क्या संभलेगा

8

Chandi Dutt Jha

News Wing Ranchi, 27 November: मुख्यमंत्री के आदेश बाद हरमू रोड में कट्स बंद तो कर दिए गए हैं, लेकिन जाम पर इसका असर देखने को नहीं मिल रहा है. सुबह से रात तक लोगों को बेतरतीब जाम का सामना करना पड़ता है. वहीं कट्स बंद किए जाने से लोगों में आक्रोश भी है, छोटे से काम के लिए उन्हें एक किलोमीटर घूमकर जाना पड़ता है. उधर यातायात पुलिसकर्मी के इस जाम को हटाने में पसीने छूट रहे हैं. इस कट्स के बंद करने से वार्ड 30, 31, 35 और 36 के लोगों पर सीधा असर पड़ा है. सड़क के दोनों एरिया का बंटवारा कर देने जैसे हालत दिख रहा है. लगभग डेढ़ लाख जनसंख्या वाले इस इलाके के लोगों को हर दिन इस परेशानी से दो चार होना पड़ता है. इस एरिया में ज्यादातर लोग का ठेला-खोमचा के रोजगार पर निर्भर हैं. जो मेन रोड सहित शहर के कई इलाकों में ठेला लगाते है, लेकिन कट्स बंद होने से इनलोगों के रोजगार पर संकट आ गया है. हरमू- किशोरगंज चौक को बंद करने के मुख्यमंत्री के फैसले से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया.  

यह भी पढ़ेंः रांची: लोगों ने घेरा रघुवर दास का काफिला, सीएम ने किशोरगंज चौक पर 10 फीट जगह छोड़ने का दिया आदेश

ट्रैफिक संभला नहीं, राज्य क्या संभलेगाः झाविमो

झाविमो नेता राजीव रंजन ने बताया कि रांची में ही रांची को बसाने का प्रयास किया जा रहा है. अगर ग्रेटर रांची बन जाता तो इस तरह की समस्या लोगों को नहीं होती, कट्स बंद करने से यदि यातायात सुगम हो जाए तो मैं इसका समर्थन करूगा, लेकिन हरमू रोड में कट्स बंद करने के बाद इस रोड में महा जाम लगने लगा है. अब यह ट्रैफिक प्लान पूरी तरह फेल हो गया है, जो सरकार ट्रैफिक व्यवस्था सही तरीके से संभाल नहीं सकती वो राज्य को क्या चलायेगी.

यह भी पढ़ेंः नयी ट्रैफिक व्यवस्था पर ट्रैफिक पुलिस – आदेश सीएम की मानें या बात लोगों की सुनें

सरकार के पास विजन की कमीः झामुमो

झामुमो के नेता प्रो. अशोक नाग ने कहा कि वर्तमान सरकार के पास विजन की कमी है. लोगों पर अपना फैसला थोपने का काम किया जा रहा है. नई राजधानी का निर्माण किया जाना चाहिए था, जो नहीं किया जा रहा है. हरमू रोड में कट्स बंद करने से कई तरह की परेशानी लोगों को हो रही है. कट्स बंद कर कितने दिन गाड़ी चलेगा. 2000 एकड़ में नया रांची का निर्माण किया जाना था, जो नहीं किया जा रहा है. शहर को व्यवस्थित करने के लिए मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा अध्यक्ष आवास सहित कई अन्य तरह के आवास को शहर के बाहर शिफ्ट करना चाहिए, ताकि कुछ हद तक लोगों को राहत मिल सके.

अधिकारी मुख्यमंत्री को कर रहे हैं गुमराहः कांग्रेस

कांग्रेस नेता राजेश ठाकुर ने हरमू रोड में कट्स बंद मामले में कहा कि हाईवे रोड पर कट्स बंद किया जाता है, ताकि किसी के जान माल का नुकसान ना हो, भीड़-भाड़ वाले हरमू रोड में कई लोगों का रोजी रोजगार चलता है. कट्स बंद होने से लोगों को अनेक तरह की समस्या होगी. राज्य के अधिकारी मुख्यमंत्री के खो में घूल झोंक बात मनवा रहे हैं. स्थानीय विधायक इस मामले में पहले से पहल किए होते तो आज इस तरह की समस्या लोगों के सामने नहीं होता. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: