Uncategorized

‘ट्रेनों में पसंदीदा बर्थ सेलेक्शन और त्योहारी सीजन में वसूले जायें अधिक किराये’

New Delhi: रेलवे की किराया समीक्षा समिति ने अपनी नयी सिफारिशों में किराये संबंधी नये पेशकश किये हैं. समिति की सिफारिशों के अनुसार त्योहार के सीजन में जहां एक ओर सीट बुक करने के ज्यादा पैसे देने पड़ सकते हैं, वहीं ट्रेन में नीचे के बर्थ का सेलेक्शन करने पर भी आपको ज्यादा किराया चुकाना पड़ सकता है.

इसे भी पढ़ें: पाकुड़ः पत्नी की हत्या का आरोपी कलम बास्की दोषी करार, 20 जनवरी को कोर्ट सुनायेगी सजा

यात्रियों से उनकी पसंद की बर्थ के लिए अधिक किराया वसूला जाना चाहिएः समिति

यदि रेलवे बोर्ड इन सिफारिशों को स्वीकार कर लेता है, तो रेल यात्रियों को टिकट बुक कराने पर अधिक भुगतान करना होगा. सूत्रों के अनुसार प्रीमियम ट्रेनों में फ्लेक्सी किराया प्रणाली की समीक्षा के लिए गठित समिति ने सुझाव दिया है कि रेलवे को एयरलाइंस और होटलों की तरह डायनामिक मूल्य मॉडल अपनाना चाहिए. जिस तरह से विमान में यात्रियों को आगे की लाइन की सीटों के लिए अधिक भुगतान करना पड़ता है उसी तरह ट्रेनों में भी यात्रियों से उनकी पसंद की बर्थ के लिए अधिक किराया वसूला जाना चाहिए. समिति ने अपनी रिपोर्ट रेलवे बोर्ड को सौंप दी है.

इसे भी पढ़ें: सिमडेगा की 15 वर्षीय लड़की के साथ गुमला में दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

– समिति ने कहा, कम व्यस्त महीनों में किराये में कमी करनी चाहिए

– साथ ही समिति ने कहा कि सुविधाजनक समयसारिणी तथा किसी विशेष मार्ग पर लोकप्रिय ट्रेनों का किराया बढ़ाया जा सकता है.

– समिति ने यह भी सुझाव दिया है कि एक किराये के बजाय रेलवे को त्योहारी सीजन के दौरान किराया बढ़ाना चाहिए जबकि कम व्यस्त महीनों में किराये में कमी करनी चाहिए.

– असुविधाजनक समय पर अपने गंतव्य पहुंचने वाली ट्रेनों के यात्रियों को रियायत दी जानी चाहिए. मसलन रात 12 से सुबह चार बजे तथा दोपहर को एक बजे से शाम पांच बजे तक पहुंचने वाली ट्रेनों के यात्रियों को किराये में रियायत दी जा सकती है.

– समिति ने फ्लेक्सी किराया प्रणाली में इन बदलावों का सुझाव दिया है. इस प्रणाली में प्रीमियम ट्रेनों में किराया 50 प्रतिशत तक बढ़ जाता है, जिसका विभिन्न हलकों से विरोध हो रहा है.

– फ्लेक्सी किराया प्रणाली में आधार किराया प्रत्येक 10 प्रतिशत सीटों की बुकिंग के बाद 10 प्रतिशत बढ़ जाता है. यह बढ़ोतरी 50 प्रतिशत तक होती है.?

– समिति ने रातभर में यात्रा पूरी करने वाली और पैंट्री कार सुविधा वाली रेलगाडि़यों में प्रीमियम शुल्क का भी सुझाव दिया है.

इसे भी पढ़ें: मानव तस्करी का केन्द्र बना झारखंड, यहां दम तोड़ रहा बालपन

समिति में ये हैं शामिल

समिति में रेलवे बोर्ड के अधिकारी, नीति आयोग के सलाहकार रविंद्र गोयल, एयर इंडिया की कार्यकारी निदेशक (राजस्व प्रबंधन) मीनाक्षी मलिक, प्रोफेसर एस श्रीराम और ली मेरिडियन दिल्ली के राजस्व निदेशक इति मणि शामिल हैं.

 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button