Uncategorized

झारखंड : बिजली दरों में वृद्धि को लेकर चारों ओर आलोचनाओं का दौर

जनता की कमाई लूट रही सरकार : आम आदमी पार्टी

Ranchi : राज्य सरकार द्वारा बिजली दर में बेतहाशा वृद्धि को लेकर राज्य भर में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है, वहीं सियासी गलियारों में आलोचनाओं का सिलसिला शुरू हो गया. आम आदमी पार्टी झारखंड के प्रदेश संयोजक जयशंकर चौधरी ने इसे जनता के साथ सरकार का धोखा बताया है. उन्होंने कहा है कि रघुवर सरकार द्वारा जनता की गाढ़ी कमाई की लूटी जा रही है. झाररवंड में जहां 200 यूनिट बिजली की दर पहले 3 रुपये थी, जो पहले से हीं ज्यादा थी उसे बढाकर 5.50 रूपये कर दिया गया है. उन्होंने आगे कहा कि रघुवर सरकार को दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार से सीखना चाहिए, जो पूरे देश की तुलना में दिल्ली की जनता को सबसे सस्ती बिजली दे रही है. दिल्ली में जनता को 200 यूनिट बिजली 1 रूपये एंव 400 यूनिट बिजली 1.45 रूपये में दी जा रही है. उन्होंने कहा कि रघुवर सरकार जनहित में तुरंत बिजली दर में वृद्धि को वापस ले अन्यथा आम आदमी पार्टी पूरे प्रदेश में सरकार के खिलाफ व्यापक आंदोलन करेगी.

इसे भी पढ़ें-  बढ़ गया बिजली का टैरिफ, शहर में प्रति यूनिट 3 रु. के बदले 5.50 रु. व गांव में 1.25 रु की जगह 4.40 रु प्रति यूनिट देना होगा, इंडस्ट्री का बिजली दर नहीं बढ़ा

जज

बिजली दर में वृद्धि गरीबों का खून चूसने जैसा : झाविमो

इस मुद्दे पर झारखंड विकास मोर्चा के केन्द्रीय प्रवक्ता योगेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि झारखंड की भाजपा सरकार ने बिजली दर में 98 फीसदी की बढ़ोत्तरी कर साबित कर दिया कि वह गरीब व किसान विरोधी है. रघुवर सरकार द्वारा बिजली दर में बेतहाशा वृद्धि करना गरीबों का सीरिंज से खून निकालकर चूसने जैसा फैसला है. जो घोर आपत्तिजनक है. उन्होंने कहा कि जिस राज्य के कोयले से देश ही नहीं बल्कि दूसरे देश भी रोशन होते हैं, उसी राज्य के उपभोक्ताओं पर सरकार का यह सितम गलत है. ऊपर से मुख्यमंत्री झूठा आश्वासन दे रहे हैं कि गरीब, मजूदर व लघु व्यवसायियों को राहत दी जाएगी.

इसे भी पढ़ें-  देवघर : चैंबर अध्यक्ष ने नये विद्युत टैरिफ पर जताई आपत्ति, कहा- प्रोफेशनल हाथों में सौंपे विद्युत व्यवस्था

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button