Uncategorized

झारखंड के लिए सीएम रघुवर दास ने पेश किया 80,200 करोड़ का बजट

Ranchi : झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास आज मंगलवार को चौथी बार अपनी सरकार का बजट पेश कर रहे हैं. रघुवर दास ने कुल 80,200 करोड़ का बजट पेश किया है. यह दूसरा मौका है जब राज्य सरकार एक अप्रैल से शुरू होने वाले वित्त वर्ष के लिए जनवरी में बजट प्रस्तुत की हो. गौरतलब है कि पिछले साल भी सरकार ने 23 जनवरी को अपना वार्षिक बजट पेश किया था. वहीं झारखंड के इतिहास में पहली बार बजट के दिन विपक्ष के करीब-करीब सभी विधायक को निलंबित कर दिया गया. विपक्ष कला नकाब लगा कर विरोध कर रहा था. इसी वजह से स्पीकर ने उन्हें निलंबित कर दिया. स्पीकर ने जब विपक्ष के विधायकों को निलंबिय किया तो वैसे विपक्षी विधायक जिन्होंने नकाब नहीं लगाया था वो भी सदन से बाहर चले गए. गौरतलब है कि विपक्ष के द्वारा काली टोपी पहनने पर मंत्री सरयू राय ने स्पीकर से उन्हें एक दिन के लिए निलंबित करने का आग्रह किया था. जिसके बाद स्पीकर ने उनकी बात पर सहमत होते हुए विपक्ष के एक दिन के लिये निलंबित किया. इधर सीएम भी विपक्ष के बिना ही बजट पेश किया.

मुख्यमंत्री के भाषण में बजट की मुख्य बातें

  • सरकारी स्कूलों में पेयजल की सुविधा होगी
  • दो साल में तीन मेडिकल कॉलेज खोले जायेंगे
  • साल 2018 के दीपावली पर सभी घरों में बिजली होगी
  • झारखंड में स्वास्थ्य व्यवस्था बेहतर की जायेगी
  • शहीद ग्राम योजना के जरिये विकास किया जायेगा
  • यह बजट आम जनता की राय से तैयार किया गया है
  • पूर्व की 142 में से 121 घोषणाएं पूरी हुई
  • जोहार परियोजना से होगा गांव का विकास
  • झारखंड की जनता आम बजट को अपना बजट समझे
  • सकल घरेलु उत्पाद में कृषि का योगदान 14 फीसदी
  • शिक्षा में 11 हजार 181 करोड़ का खर्च
  • नगर विकास पर 5 हजार करोड़ का बजट
  • शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण और पेयजल पर जोर
  • कृषि बजट के जरिए किसानों की आय बढ़ाने पर जोर
  • झारखंड की 70 फीसदी जनता गांव में रहती है
  • महिलाओं का जीवन स्तर सुधारने पर जोर
  • 8 हजार करोड़ से ज्यादा का जेंडर बजट
  • एससी-एसटी के विकास के लिए अलग बजट
  • सखी मंडलों के आये बढ़ाने के उपाय
  • गावों में कोल्ड स्टोरेज खोले जाएंगे
  • पशुपालन और मछली पालन से बढ़ेगी आय
  • गांवों में पुल-पुलिया और सड़क बनाये जाएंगे
  • सिंचाई के लिए बिजली का अलग फीडर
  • बायो गैस प्लांट की स्थापना का प्रस्ताव
  • मछली उत्पादन में आत्मनिर्भर बना झारखंडबजट

     

क्या था पिछला बजट

वित्तीय वर्ष 2017-18 में 75,673 करोड़ का मूल बजट था . जिसमे  प्रमुख आवंटन शिक्षा और ग्रामीण विकास के ऊपर रखा गया था. स्कूली शिक्षा और साक्षरता के लिए 10517.24 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया था. वहीं, ग्रामीण विकास मद में 10473.70 कोर्ड रूपये का प्रावधान किया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button