न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जामताड़ाः सड़क का हाल बेहाल, लोग हिचकोले खाकर सफर करने को हैं मजबूर

7

News Wing
Jamtara,09 December:
जिले के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को आज भी हिचकोले खाकर सफर करना पड़ रहा है. एक तरफ सरकार अपनी उपलब्धियां गिना रही है और कर रही है कि हमने गांव-गांव में सड़क बनवाने का काम किया है. वहीं दूसरी और हकिकत कुछ और ही है.  सरकार ने सड़क तो बनवाया लेकिन वहां जहां शहर के लोगों का आना-जाना हो. वहीं जिले के सैकड़ों गांव ऐसे हैं जो सदियों से जर्जर है. आज भी उन गांवो के सड़कों पर चलना मुश्किल है.

इसे भी पढ़ें- झारखंड में स्वास्थ्य, कुपोषण, शिक्षा की स्थिति बदतर, पिछड़े 115 जिलों में झारखंड के 19 जिले शामिल: नीति आयोग

दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है

ऐसा ही हाल जामताड़ा प्रखंड के चिरूडिह गांव से तरणी तक की सड़क की है. चिरूडिह से तरणी गांव की सड़क जो ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को शहर से जोड़ने का काम करती है. पूरी सड़क में करीब दो किलोमीटर तक पत्थर के बड़े–बड़े टुकड़े हैं. लोग इस रास्ते में हिचकोले खाकर सफर करने को मजबूर है. आलम यह है कि सड़क की हालत पर ना तो प्रशासन की ओर से ध्यान दिया जा रहा है और ना ही स्थानीय जनप्रतिनिधियों के द्वारा. सड़क पर बने गड्ढों व बिखरे पड़े पत्थरों की वजह से दो पहिया वाहन की दुर्घटना होने की संभावना बनी रहती है.

इसे भी पढ़ें- बीजू पटनायक ने कलिंगा के आंदोलनकारियों पर गोली चलाने का आदेश मेरे सामने दिया था : जॉर्ज तिर्की

सड़क की मरम्मती की कर चुके हैं मांग

सड़क की मरम्मती के लिए स्थानीय लोगों के द्वारा कई बार अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया गया है. लेकिन अभी तक सड़क नहीं बन पाया है. इस क्षेत्र के सैकड़ों गांवों के लोग प्रतिदिन हजारों की संख्या में इस रास्ते से गुजरते हैं. इस सड़क पर गुजरने वाले राहगिरों को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ता है. हिचकोले खाते वाहनों की दुर्घटना की आशंका बनी रहती है. इस संबंध में जिला परिषद अध्यक्ष दीपिका बेसरा  ने सड़क का निर्माण कराए जाने की मांग सरकार से की है. उन्होंने कहा कि यह सड़क बन जाने से क्षेत्र के लोगों को काफी सुविधा हो जाएगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: