Uncategorized

जामताड़ाः खतरे में महिला प्रौद्योगिकी विद्यालय का अस्तित्व

News Wing

Jamtara, 02 October: लाखों-करोड़ों रुपये खर्च कर बनाये गये जामताड़ा जिले में दर्जनों भवन का अस्तित्व खतरे में है. भवनों को बना तो दिया गया है, लेकिन उनका उपयोग नहीं हो रहा है. इन भवनों की सुध लेने वाला भी कोई नहीं है. उदलबनी में ऐसा ही एक भवन है महिला प्रौद्योगिकी विद्यालय का, जिसका उद्घाटन धूमधाम से हुए. कुछ महीने तक पढ़ाई भी हुई, लेकिन जल्द ही यह भवन बंद हो गया. आज हाल यह है कि देखरेख के अभाव में स्कूल का भवन जर्जर हो गया है. स्कूल के आसपास जंगल-झाड़ उग आये हैं.

advt

जेल और मतगणना के लिए भवन का होता है उपयोग

गौरतलब है कि झामुमो सुप्रीमो सोरेन को जब सजा सुनाया गया था तब उन्हें इसी विद्यालय भवन में रखा गया था. वहीं चुनाव का मतगणना के लिए भी इस भवन का प्रयोग किया जाता है. कुल मिलाकर यह कहें कि इस स्कूल भवन का उपयोग अब सिर्फ मतगणना कार्य और जेल के तौर पर किया जा रहा है.

धूल फांक रहे सिलाई मशीन और कंप्यूटर

स्कूल में स्वच्छता अभियान की भी पोल खुल रही है. चारों तरफ गंदगी का अंबार लगा हुआ है. वहीं लाखों रुपये से खरीदी गयी सिलाई मशीन और कंप्यूटर समेत अन्य उपकरण भी बेकार हो गये.

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: