न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

छात्र-छात्राओं को उकसाकर हिंसा फैलाने वाले षड्यंत्रकारी नेताओं की पहचान करे पुलिस : प्रतुल शाहदेव

22

Ranchi : भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी SC/ST समुदाय के हितों की रक्षा के लिए कृतसंकल्प है. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने जिस मामले में फैसला सुनाया था, उसमें केंद्र सरकार पार्टी भी नहीं थी. इसके बावजूद केंद्र सरकार ने सोमवार को रिव्यू पिटीशन दाखिल कर इस मामले में हस्तक्षेप किया है. रांची में हुई हिंसात्मक झड़पों पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि पर्दे के पीछे से कुछ विकास विरोधी नेताओं ने साजिश करने का जो प्रयास किया, वह अत्यंत ही निंदनीय है. उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं के बीच घुसकर कुछ असामाजिक तत्वों ने पुलिस बल पर हमला कर कई पुलिसकर्मियों को घायल किया. वह यह साफ दर्शाता है कि यह पूरी घटना सुनियोजित थी.

mi banner add

इसे भी देखें- रांची: भारत बंद के दौरान समर्थकों का उत्पात, आदिवासी हॉस्टल को खाली करने को निर्देश, पुलिस ने संभाला मोर्चा,  देखें वीडियो

लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान नहीं 

श्री शाहदेव ने कहा कि लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान नहीं होता. कहा कि आंदोलन करने का सब को हक है. लेकिन उन नेताओं की भूमिका की जांच आवश्यक है, जिन्होंने पर्दे के पीछे से सोमवार को रांची सहित पूरे प्रदेश को अशांत करने की कोशिश की. श्री शाहदेव ने आरोप लगाते हुए कहा कि यह नेता उसी दल से आते हैं, जिन्होंने बाबा साहब अंबेडकर को भारत रत्न तक देने से परहेज किया था और जयपाल सिंह के साथ भी विश्वासघात किया था. इस दल के नेताओं के मुंह से दलितों और आदिवासियों के हित की बात बेमानी सी लगती है. उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार दलित और आदिवासी समुदाय के हितों की रक्षा के लिए जो भी आवश्यक कदम है वो उठायेगी. झारखंड में विकास विरोधी शक्तियों के षड्यंत्र को राज्य सरकार कभी पूरा नहीं होने देगी.

Related Posts

पूर्व सीजेआई आरएम लोढा हुए साइबर ठगी के शिकार, एक लाख रुपए गंवाये

साइबर ठगों ने  पूर्व सीजेआई आरएम लोढा को निशाना बनाते हुए एक लाख रुपए ठग लिये.  खबर है कि ठगों ने जस्टिस आरएम लोढा के करीबी दोस्त के ईमेल अकाउंट से संदेश भेजकर एक लाख रुपए  की ठगी कर ली.

इसे भी देखें- छात्रों पर लाठीचार्ज के खिलाफ झामुमो की मांग, कानून व्यवस्था की समीक्षा कर राष्ट्रपति शासन की अनुशंसा करे केंद्र सरकार

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: