न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चुनाव प्रचार में तेज लाउडस्‍पीकर बजाने वालों की खैर नहीं, पकड़े जाने पर होगी सख्‍त कार्रवाई

78

Ranchi : नगर निकाय चुनाव में अब तेज लाउडस्‍पीकर से प्रचार-प्रसार करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी. इसके लिए निर्वाचन आयोग के निर्देश पर एक स्‍पेशल टीम बनाई गई है. इस जांच टीम में झारखंड राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद के विशेषज्ञों और जिला प्रशासन के द्वारा प्रतिनियुक्‍त पदाधिकारियों को रखा गया है. रांची के निर्वाची पदाधिकारी अंजलि यादव ने अपने आदेश में बताया है कि ऐसी शिकायतें मिल रही थीं कि प्रशासन से अनुमति लेने के बाद चुनाव प्रचार के लिए जो लाउडस्‍पीकर इस्‍तेमाल हो रहे हैं, वह काफी तेज बजाये जा रहे हैं. आवासीय क्षेत्रों में 55 डेसीबल और व्‍यवसायिक क्षेत्रों में 65 डेसीबल से अधिक पैमाने पर प्रचार हो रहा है.

इसे भी देखें- नगर निकाय चुनाव : पलामू में भाजपा प्रत्याशियों की जीत के लिए मंत्री ने मांगा जनता का साथ, झामुमो और कांग्रेस पर साधा निशाना

अब ऐसी शिकायतों की जांच के लिए झारखंड राज्‍य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद के अनुसंधान सहायक सुबोध कुमार सिंह और त‍कनीकी सहायक श्रीकांत तिवारी को ध्‍वनि स्‍तर की जांच के लिए नियुक्‍त किया गया है. इस जांच टीम में सीओ रामजी प्रसाद गुप्‍ता, और भूगर्भ जल संरक्षण विभाग के कनीय अभियंता अभिषेक आनंद गुप्‍ता को भी रखा गया है. आदेश में कहा गया है कि प्रदूषण नियंत्रण की तकनीकी टीम आवासीय क्षेत्र में 55 डेसीबल और व्‍यवसायिक क्षेत्र में 65 डेसीबल से अधिक साउंड में प्रचार करने वाले लाउडस्‍पीकर की माप कर रिपोर्ट रामजी प्रसाद गुप्‍ता और अभिषेक आनंद को सौंपेगी.

इसे भी देखें-  बिना अनुमति प्रचार वाहन के इस्‍तेमाल पर बीजेपी प्रत्‍याशी आशा लकड़ा को नोटिस

रर

तेज आवाज वाले लाउडस्‍पीकर का इस्‍तेमाल कर चुनाव प्रचार करना आदर्श आचार संहिता का उल्‍लंघन है. इसका उल्‍लंघन किये जाने की स्थिति में पदाधिकारियों को लाउडस्‍पीकर और मोटरवाहन जब्‍त करने का निर्देश दिया गया है. साथ ही संबंधित वाहन मालिक, लाउडस्‍पीकर देने वाले फर्म और प्रत्‍याशी पर कानूनी कार्रवाई और एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया गया है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: