न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चरही महाप्रबंधक की लापरवाही व रामगढ़ के खनन पदाधिकारी की मनमानी से राजस्व का हो रहा नुकसान : राजलाल सिंह पटेल

119

Ramgarh : सेंट्रल कोल फील्ड्स लिमिटेड के चरही महाप्रबंधक की लापरवाही के कारण आने वाली सभी परियोजनाओं में रोड सेल का काम धीमी गति से चल रही है, जिससे कोयला व्यवसायियों एवं सरकार के राजस्व को करोड़ों रुपये का नुकसान हो रहा है. उपरोक्त बातें एन्टी करप्शन एंड क्राइम कंट्रोल कमेटी के संस्थापक सह राष्ट्रीय अध्यक्ष राजलाल सिंह पटेल ने शनिवार को संस्था के जिला कमेटी के पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कही. उन्होंने अपने संबोधन में बताया कि बीते दिनों मैंने अपने भ्रमण के दौरान परियोजना क्षेत्रों में तीव्र गति से बढ़ रही प्रदूषण पर चिन्ता व्यक्त करते हुए भारत सरकार के वन एवं पर्यावरण मंत्री से शिकायत की थी. मंत्रालय ने शिकायत संख्या– MOEAF/E/2017/02093 दर्ज कर जब जांच शुरू की. जांच में पाया गया कि परियोजनाएं भारत प्रदूषण बोर्ड द्वारा जारी किये गये मानक को पूरी नहीं कर रही है. प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने परियोजनाओं को पन्द्रह दिनों के अन्दर कार्रवाई करते हुए मानक पूरा करने का आदेश दिया.

mi banner add

इसे भी पढ़ें: पलामू की तत्कालीन डीसी पूजा सिंघल ने वर्ष 2002 के बदले 1999 के नियम का किया उल्लेख, इसी आधार पर निगरानी ने तैयार की रिपोर्ट और मुख्यमंत्री ने मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी को दी क्लीन चिट

जिला खनन पदाधिकारी कर रहे मनमानी

राजलाल सिंह पटेल ने बताया कि जिला खनन पदाधिकारी द्वारा मनमानी करते हुए कुछ ही वाहनों को ही माइनिंग सर्टिफिकेट जारी किया जा रहा है, जिससे रोड सेल का कार्य दस से पन्द्रह प्रतिशत ही पिछले दस दिनों से हो रहा है, जिस कारण प्रति दिन सरकार को करोड़ों रुपये के राजस्व का नुकसान हो रहा है, वहीं दूसरी तरफ कोयला व्यवसायियों को रिफंड के अनुसार प्रतिदिन दो सौ रुपया प्रति टन की दर से नुकसान उठाना पड़ता है.

उन्होंने बताया कि सेंट्रल कोल फील्ड्स लिमिटेड के चरही क्षेत्र में आने वाली सभी परियोजनाएं प्रदूषण बोर्ड के मानकों को पूर्ण नहीं कर रही है, जो चरही महाप्रबंधक की लापरवाही को दर्शाता है. महाप्रबंधक परियोजना के प्रति गंभीर नहीं हैं, जिस कारण परियोजनाओं की स्थिति बिगड़ी है. जिला खनन विभाग का बकाया भी बढ़ता जा रहा है.

इसे भी पढ़ें: स्थापना दिवस घोटालाः कैबिनेट को पता ही नहीं कि पहले से ही रांची प्रशासन ने तय कर ली थी दर, आयोजन के लिए सिर्फ ऊर्जा विभाग ने ही कराया था टेंडर

कोयला उठाव नहीं होने के कारण व्यवसायियों को हो रहा लाखों का नुकसान

राजलाल सिंह पटेल ने बताया कि संस्था को कुछ कोयला व्यवसायियों की शिकायतें मिली है. कोयला उठाव नहीं होने के कारण व्यवसायियों को लाखों का नुकसान हो रहा है. व्यवसायियों ने परियोजना प्रबंधन एवं जिला खनन पदाधिकारी पर लापरवाही व मनमानी का आरोप लगाया है. संस्था प्राप्त शिकायत से प्रधानमंत्री कार्यालय एवं भारत सरकार के कोयला मंत्रालय तथा भारत सरकार के खान मंत्रालय को पत्र के माध्यम से अवगत करा चुकी है.

Related Posts

पूर्व सीजेआई आरएम लोढा हुए साइबर ठगी के शिकार, एक लाख रुपए गंवाये

साइबर ठगों ने  पूर्व सीजेआई आरएम लोढा को निशाना बनाते हुए एक लाख रुपए ठग लिये.  खबर है कि ठगों ने जस्टिस आरएम लोढा के करीबी दोस्त के ईमेल अकाउंट से संदेश भेजकर एक लाख रुपए  की ठगी कर ली.

इसे भी पढ़ें: एक अप्रैल से नहीं बढ़ेंगे बिजली के दाम, निकाय चुनाव के बाद पांच गुणा होगा टैरिफ

संस्था के पदाधिकारियों को भ्रष्टाचार के मामलों को गंभीरता से उठाने का निर्देश

उन्होंने संस्था के पदाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि अपराध एवं भ्रष्टाचार के मामलों को संस्था के पदाधिकारी गंभीरता से उठाते हुए मुझे अवगत कराएं तथा रामगढ़ पुलिस अधीक्षक द्वारा अपराधियों एवं तस्करों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान में भरपूर सहयोग करें, ताकि आपका प्रयास देश को अपराध एवं भ्रष्टाचार मुक्त बनाने में काम आये.

मौके पर ये थे मौजूद

इस मौके पर संस्था के मेडिकल सेल के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ सचिन गुप्ता, साइबर क्राइम कंट्रोल सेल के राष्ट्रीय अध्यक्ष आकाश शर्मा, राष्ट्रीय महासचिव डॉ उज्ज्वल कुमार सिन्हा, राष्ट्रीय महासचिव एमडी शाहिद अली, महिला सेल की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आशा कुमारी, लीगल सेल के प्रदेश अध्यक्ष अधिवक्ता प्रकाश रंजन, गलू महतो, संतोष कुमार, एमडी तबारक, महेश महतो, सुभाष गिरी, ओमप्रकाश प्रसाद, राजकुमार महतो, सीमा पाठक, मीडिया सेल के प्रदेश उपाध्यक्ष एमडी मुबारक, किशोर कुमार सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे. वहीं बैठक की अध्यक्षता युवा सेल के प्रदेश अध्यक्ष पिन्टू मालाकार एवं संचालन रामगढ़ जिला इंचार्ज सूरज प्रसाद जायसवाल ने किया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: