न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चतरा से गया के बीच जल्द दौड़ेगी ट्रेन, रेलवे बोर्ड ने रेल लाइन बिछाने के लिए दिये 15 करोड़

22

News Wing

Chatra, 08 December: झारखंड के सबसे पिछड़े जिलों में शुमार और उग्रवाद प्रभावित जिला चतरा के लोगों का इंतजार खत्म होने वाला है. रेलवे बोर्ड ने चतरा के लोगों के लिए अच्छी खबर दी है. रेलवे बोर्ड ने गया-बोधगया-चतरा और गया-नटेसर (नालंदा) के बीच नयी रेल लाईन बिछाने की कवायद शुरू कर दी है. इसी कवायद के तहत बोर्ड ने प्रथम चरण में रेल लाईन बिछाने के लिए 15 करोड़ रुपये आवंटित किये हैं. 

गया-किऊल सेक्शन के दोहरीकरण और विद्युतीकरण के लिए भी 100 करोड़ रुपये आवंटन

बताया जाता है कि इन योजनाओं को वित्त वर्ष 2017-18 की बजट में शामिल कर लिया गया है. इतना ही नहीं, गया-किऊल सेक्शन के दोहरीकरण और विद्युतीकरण के लिए भी 100 करोड़ रुपये आवंटित किये गये हैं. विभागीय सूत्रों की मानें, तो रेलवे ने वर्तमान सरकार द्वारा रेल परिवहन संरचना को तीव्र गति से पूरा करने के संकल्प पर जोर-शोर से काम हो रहा है. सरकार का निर्देश है कि अधूरी योजनाओं या अटकी पड़ी योजनाओं को जल्द से जल्द पूरा किया जाये. यही वजह है कि सरकार राशि आवंटन में अब देर नहीं कर रही.

यह भी पढ़ें: चतरा: टंडवा नदी से बालू का अवैध उत्खनन जारी, बिना चालान के हजारीबाग में की जा रही आपूर्ति

प्राप्त आवंटन महत्वपूर्ण रेल परियोजनाओं की व्यय आवश्यकताओं की पूर्ति करेगा: डीके गायेन

पूर्व मध्य रेलवे के जीएम डीके गायेन ने निर्माण कार्य को प्रारंभ कराने की दिशा में कार्रवाई शुरू कर दी है. जीएम का कहना है कि प्राप्त आवंटन महत्वपूर्ण रेल परियोजनाओं की व्यय आवश्यकताओं की पूर्ति करेगा. इससे महत्वपूर्ण रेल परियोजनाओं को पूरा कराने की दिशा में और गति आयेगी.

रेल लाइन एयरपोर्ट के रास्ते बोधगया दुमुहान-डोभी होते हुए चतरा जायेगी

उल्लेखनीय है कि गया-बोधगया-चतरा रेल लाइन निर्माण की मांग काफी पुरानी है. इस बीच, ZRUCC के सदस्य डीके जैन और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य उदय श्रीवास्तव ने रेल मंत्री को गया-बोधगया-चतरा रेल लाइन का निर्माण कराने के लिए पत्र लिखा था. योजना के मुताबिक, गया-काष्ठा रेलवे स्टेशन के बीच से रेल लाइन निकलेगी, जो एयरपोर्ट के रास्ते बोधगया दुमुहान-डोभी होते हुए चतरा जायेगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: