Uncategorized

गोमिया से बीजेपी के उम्मीदवार होंगे माधव लाल सिंह, टिकट कन्फर्म करने रांची पहुंचे

Akshay Kumar Jha
 

प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने प्रदेश कार्यालय तक एस्कॉर्ट किया

Ranchi: गोमिया उपचुनाव को लेकर बीजेपी ने भी अपना पत्ता खोल दिया है. आजसू के नहीं मानने के बाद बीजेपी ने गोमिया से कद्दावर नेता माधव लाल सिंह को टिकट देने का फैसला कर लिया है. देर रात तक हुई कई दौर की बातों के बाद सुबह-सुबह माधव लाल सिंह रांची के लिए निकले. पेटरवार में कुछ देर अपने कार्यकर्ताओं से बात करने के बाद माधव लाल सिंह रांची पहुंचे. जहां उन्हें प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने एस्कॉर्ट किया और प्रदेश कार्यालय तक ले कर आए. बताया जा रहा है कि देर रात को अर्जुन मुंडा और सीएम रघुवर दास की तरफ से माधव लाल सिंह को फोन आया. उन्हें बीजेपी की तरफ से एक बार फिर से चुनाव लड़ने को कहा गया. बताते चलें कि इससे पहले माधव लाल सिंह 2014 में बीजेपी की टिकट से ही गोमिया विधानसभा से चुनाव लड़े थे. जेएमएम के उम्मीदवार योगेंद्र महतो ने इन्हें काफी अंतर से हराया था. 

इसे भी पढ़ें – मुख्यालय की चाहत, डीजीपी को मिले पांच लाख तक इनाम घोषित करने का अधिकार, सरकार से अनुमति की जरुरत नहीं

बीजेपी का उम्मीदवार माधव लाल सिंह होने की वजह
पिछली बार माधव लाल सिंह को योगेंद्र महतो ने करीब 30,000 वोटों से हरा दिया था. इसके पीछे एक मात्र वजह यह मानी जा रही है कि किसी भी पार्टी की तरफ से कोई महतो उम्मीदवार नहीं उतारा गया था. इसका फायदा जेएमएम के उम्मीदवार योगेंद्र महतो को मिला. महतो वोट के ध्रुवीकरण की वजह से योगेंद्र महतो ने एक शानदार जीत हासिल की. लेकिन इस बार आजसू की तरफ से लंबोदर महतो के मैदान में आ जाने से महतो वोट किसी एक उम्मीदवार को नहीं मिलने वाली. महतो वोट के विभाजन की वजह से माधव लाल सिंह को फायदा हो सकता है. इसी समीकरण के मद्देनजर माधव लाल सिंह पर बीजेपी दोबारा से दांव आजमा रहा है.    

इसे भी पढ़ें –केंद्र की नीतियों के खिलाफ किसान महासंघ का एलान : देशभर में 1-10 जून तक आपूर्ति रहेगी ठप

माधवलाल सिंह VS  लंबोदर महतो होगा इस बार का चुनावी संग्राम 
अब यह तय माना जा रहा है कि गोमिया उप चुनाव में माधवलाल सिंह बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं. बीजेपी, आजसू और जेएमएम की ओर से चुनाव में अपना प्रत्याशी देना तय माना जा रहा है. गोमिया विधानसभा क्षेत्र से पांच बार विधायक रह चुके माधवलाल सिंह का अपना जनाधार रहा है. उनका किसी पार्टी में होना या ना होना शायद ही मैटर करता है. अमूमन निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ने वाले क्षेत्र के कद्दावर नेता पिछली बार बीजेपी उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़कर हार गए थे. दोबारा से राजनीतिक समीकरण को देखते हुए बीजेपी ने माधव लाल सिंह को उम्मीदवार के तौर पर चुना है. इस बार के गोमिया चुनावी महासंग्राम में सीधी टक्कर माधव लाल सिंह और लंबोदर महतो के बीच की है. लंबोदर महतो तीन साल से क्षेत्र में जनाधार के लिए मेहनत कर रहे हैं. कसमार और पेटरवार के इलाके में लंबोदर महतो को जन समर्थन मिलने की पूरी उम्मीद है.

वहीं शहरी इलाकों में माधव लाल सिंह और बीजेपी के होने की पकड़ का फायदा माधव लाल सिंह को मिलेगा. लंबोदर महतो ने ग्रामीण क्षेत्रों और युवाओं पर अपनी काफी अच्छी पकड़ बनायी है. इसका फायदा उन्हें इस चुनाव में मिलने की काफी उम्मीद है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Advt

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button