न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गुजरात विधानसभा में जोरदार हंगामा, कांग्रेस विधायक प्रताप दूधत ने बीजेपी विधायक जगदीश पांचाल को बेल्ट से पीटा

17

Gujrat : बुधवार को गुजरात विधानसभा मारपीट का अखाड़ा बन गया. विधानसभा में कांग्रेसी विधायकों ने जमकर हंगामा किया. कांग्रेस के विधायक प्रताप दूधत ने बीजेपी विधायक जगदीश पांचाल की बेल्ट से पिटाई कर दी. इस घटना के बाद हंगामा मच गया. इससे पहले मंगलवार (13 मार्च) को कांग्रेस के 28 विधायकों को 15 दिनों के लिए स्पीकर ने निलंबित कर दिया था. सभी विधायक पार्टी के वरिष्ठ विधायक विरजी थूमर के निलंबन का विरोध कर रहे थे. विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी ने निलंबित विधायकों को मार्शल से सदन से बाहर निकलवा दिया. कांग्रेस के मुख्य सचेतक अमित चवदा द्वारा पार्टी विधायकों की ओर से माफी मांगने के बाद स्पीकर ने सभी का निलंबन वापस लिया.

जब कृषि मंत्री आरसी फाल्दू अपने विभाग के लिए बजटीय मांग रख रहे थे, उस समय सदन में हंगामा हो गया. निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवानी ने घटना की निंदा करते हुये इसे विधानसभा के लिए काला दिन बताया है.

इसे भी पढ़ें: भाजपा ने माना कि वह क्रॉस वोटिंग कराने जा रही है, प्रवक्ता ने कहा विपक्ष के कई विधायक उस के संपर्क में

कांग्रेस नेता ठुमर ने भाजपा पर साधा निशाना

कांग्रेस नेता ठुमर ने भाजपा पर निशाना साधते हुये कहा कि गुजरात में भाजपा 22 साल से सरकार चला रही, मगर एक बांध तक नहीं बनवाया. इसका विरोध करते हुए कृषि मंत्री आरसी फालदू ने पिछले दो दशक में सरकार की ओर से किए गए कार्यों को गिनाने लगे, उन्होंने कई सिंचाई परियोजनाओं का हवाला दिया. कृषि मंत्री की खिंचाई से कांग्रेसी विधायक आक्रोशित हो उठे और मंत्री पर सवालों की बौछार कर दी. इस बीच जब विधानसभा अध्यक्ष ने बैठने की नसीहत दी तो नहीं माने.

इसे भी पढ़े: बुआ-बबुआ की जोड़ी ने योगी को पानी पिलाया, दोनों लोकसभा सीटों पर सपा को बढ़त

विधानसभा अध्यक्ष ने जब निलंबन की चेतावनी दी, तो कांग्रेसी विधायकों ने उन्हें भी चुनौती दे डाली

विधानसभा अध्यक्ष ने जब निलंबन की चेतावनी दी तो, कांग्रेसी  विधायकों ने उन्हें भी चुनौती दे डाली और वे आसन के करीब पहुंचकर हंगामा करने लगे. इससे नाराज विधानसभा अध्यक्ष ने सख्त कदम उठाते हुए अनुशासनहीनता के आरोप में 28 विधायकों को दिन भर की कार्यवाही के लिए निलंबित कर दिया. दोपहर में सदन की बैठक दोबारा शुरू होने के बाद चावदा की ओर से सभी सदस्यों की तरफ से माफी मांगी गयी. तब जाकर विधानसभा अध्यक्ष ने उनका निलंबन वापस लिया.

इसे भी पढ़ें: ट्विटर पर प्रधानमंत्री मोदी के 2 करोड़ 44 लाख फॉलोअर्स फर्जी, ट्विटर ऑडिट के जरिये खुलासा

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: