न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गुजरात विकास मॉडल फेल ! स्वास्थ्य और शिक्षा में पिछड़ा गुजरात: नीति आयोग  

73

Gandhinagar: मोदी सरकार अपने विकास के लिए हमेशा गुजरात मॉडल का हवाला देती है. लेकिन इसी गुजरात में विकास मॉडल फेल होता दिख रहा है. नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार की मानें तो गुजरात स्वास्थ्य और शिक्षा जैसे बुनियादी मामलों में पिछड़ रहा है. राजीव कुमार ने आज कहा कि गुजरात ने औद्योगीकरण में काफी अच्छा काम किया है, लेकिन स्वास्थ्य एवं शिक्षा के क्षेत्रों में इसे अभी और काम करने की जरूरत है. इसे लेकर श्री कुमार ने मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात भी की है.

इसे भी पढ़ेंमानहानि केस में मजीठिया के बाद केंद्रीय मंत्री गडकरी और कपिल सिब्बल से केजरीवाल ने मांगी माफी

मुख्यमंत्री एवं अधिकारियों से मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में गुजरात की उपलब्धियां औद्योगीकरण, बुनियादी ढांचे और ऊर्जा जैसे क्षेत्रों की उपलब्धियों की तरह नहीं है. राज्य स्वास्थ्य और शिक्षा दोनों ही क्षेत्रों में पीछे है.

इसे भी पढ़ेंअशरफ सहराई चुने गए तहरीक-ए-हुर्रियत के अध्यक्ष, गिलानी का लेंगे स्थान

शिक्षा एवं स्वास्थ्य पर बढ़ा बजटीय आवंटन

राजीव कुमार ने कहा कि उन्हें सरकार से यह जानकर खुशी हुई कि 2018-19 के लिए शिक्षा एवं स्वास्थ्य पर बजटीय आवंटन बढ़ाया गया है. उन्होंने कहा कि गुजरात इस साल स्वास्थ्य के क्षेत्र में‘‘ बड़ी सफलता’’ की योजना बना रहा है और जिला कलक्टरों से कहा गया है कि वे बाल कुपोषण एवं मातृ मृत्यु अनुपात की तरफ विशेष ध्यान दें. श्री कुमार ने कहा कि नीति आयोग प्रस्तावित तटीय आर्थिक क्षेत्रों की स्थापना में गुजरात की मदद करेगा. तटीय आर्थिक क्षेत्रों का मकसद राज्य के तट के पास आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देना है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: