न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गुजरात पहुंचने से पहले कमजोर पड़ा ओखी चक्रवात, लोगों ने ली राहत की सांस

18

News Wing
Ahmedabad, 06 December:
 दक्षिण भारत के तटों पर तबाही मचाने के बाद चक्रवात ओखी का जोर अरब सागर में कमजोर पड़ना गुजरात के लोगों और प्रशासन के लिए राहत की खबर है. दक्षिण भारत तटीय हिस्सों में तबाही मचाने के बाद चक्रवात कल गुजरात की ओर बढ़ रहा था.

लोगों को मिली बड़ी राहत

चक्रवात की वजह से मुंबई में कल सिर्फ बारिश हुई और यह वहां के तट से गुजर गया. इससे जान माल का कोई नुकसान नहीं हुआ. इससे महाराष्ट्र की राजधानी के लोगों को बड़ी राहत मिली. भारतीय मौसम विभाग की ओर से आज तड़के जारी एक विज्ञप्ति के मुताबिक, चक्रवाती तूफान पहले ‘गहरे दबाव के क्षेत्र’ में बदला फिर ‘दबाव’ के क्षेत्र में और आधी रात के बाद आखिरकार यह ‘कम दबाव’ के क्षेत्र में तब्दील हो गया.

hosp1

यह भी पढ़ें: मुंबई में चक्रवात ओखी ने दी दस्तक, मूसलाधार बारिश, स्कूल-कॉलेज बंद

चक्रवात का जोर समुद्र के ऊपर हुआ खत्म

विज्ञप्ति में बताया गया है कि पूर्वी-मध्य और आसपास के उत्तर-पूर्वी अरब सागर के ऊपर बना दबाव का क्षेत्र कल देर रात 11 बजकर 30 मिनट पर मध्य अरब सागर और आसपास के पूर्वी-अरब सागर, उत्तर तटीय महाराष्ट्र और दक्षिण तटीय गुजरात के ऊपर कम दबाव के क्षेत्र में बदल गया. यहां मौसम केंद्र के निदेशक जयंत सरकार ने कहा कि गुजरात तट पर पहुंचने से पहले ही चक्रवात का जोर समुद्र के ऊपर खत्म हो गया.

हल्की बारिश की संभावना

सरकार ने बताया कि चक्रवात सूरत नहीं पहुंचा. दक्षिणी तट पर पहुंचने से पहले ही यह समुद्र में कमजोर पड़ गया. गहरे दबाव के क्षेत्र से यह दबाव के क्षेत्र में बदला, फिर कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो गया. अब यह सिर्फ कम दबाव का क्षेत्र है और इस वजह से राज्य के कुछ हिस्सो में आज हल्की से मध्यम स्तर की बारिश हो सकती है. मौसम विभाग की विज्ञप्ति के मुताबिक, अगले 24 घंटे के दौरान दक्षिण गुजरात तथा उत्तर महाराष्ट्र के तटों तथा समुद्र में स्थिति उग्र रहेगी.

मछुआरों को अगले 24 घंटे समुद्र में नहीं जाने की सलाह

विज्ञप्ति में कहा गया है कि मछुआरों को अगले 24 घंटे के दौरान उत्तर महाराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के तटों से समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है. मंगलवार शाम तक यह आशंका थी कि चक्रवात ओखी मध्य रात तक गुजरात पहुंच सकता है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: