न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गुजरात और हिमाचल में भाजपा को स्पष्ट बहुमत, कार्यकर्ताओं में ख़ुशी की लहर

25

Ahmedabad/Shimla : गुजरात में भाजपा लगातार छठी जीत की तरफ बढ़ रही है तो हिमाचल प्रदेश में वह कांग्रेस को सत्ता से बेदखल करती नजर आ रही है. अगले लोकसभा चुनाव से पहले 18 महीने पहले आए ये नतीजे भाजपा के लिए हौसले बुलंद करने वाले हैं. भाजपा ने जीत को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास कार्यों का परिणाम करार दिया है. दूसरी तरफ कांग्रेस इससे थोड़ी राहत महसूस कर रही है कि गुजरात में उसकी सीटों की संख्या में इजाफा हुआ है.

गुजरात में लगातार छठी बार सरकार बनाती दिख रही भाजपा 182 सदस्यीय विधानसभा सीटों में से 98 जीत चुकी है और जबकि विपक्षी कांग्रेस  81 सीटें जीत चुकी है. जबकि 03 सीटें अन्य के खाते में गईं हैं. शुरुआती रुझानों से पता चला था कि गुजरात में भाजपा और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर चल रही है, बाद में भाजपा ने निर्णायक बढ़त हासिल कर ली. 

साल 2012 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को 115 और कांग्रेस को 61 सीटें मिली थीं.

हिमाचल प्रदेश में भाजपा 44 सीटें जीत चुकी है. कांग्रेस 20 सीट जीत चुकी है . जबकि 04 सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की हैं. राज्य में कुल 68 सीटें हैं. पिछले चुनाव में कांग्रेस को 36 और भाजपा को 26 सीटें मिली थीं.

अमित शाह ने इस जीत पर कहा है कि जनता ने हम पर भरोसा किया. इसी का नतीजा है कि हमने 8 प्रतिशत के अंतर से जीत दर्ज की है. गुजरात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जमकर चुनाव प्रचार किया तो दूसरी तरफ कांग्रेस की ओर से अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी पूरी ताकत झोंकी थी. केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह विकास और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए विकास को वोट है.’’ भाजपा उपाध्यक्ष श्याम जाजू ने कहा, ‘‘हमने लगातार विधानसभा चुनाव जीतकर भाजपा के इतिहास में एक रिकॉर्ड बनाया है. सत्ता विरोधी लहर वहां काम नहीं कर रही है. प्रधानमंत्री की लोकप्रियता बरकरार है. अमित शाह की रणनीति ने काम किया. ’’जीत को लेकर स्थिति स्पष्ट होने के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं ने मिठाइयां बांटकर और पटाखे जलाकर जश्न मनाया. कांग्रेस नेता कमल नाथ ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘कांग्रेस की सीटों की संख्या बढ़ी है, जबकि भाजपा की सीटें कम हुई हैं. यह राहुल गांधी की राजनीतिक जीत है.’’

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: