न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गिरिडीह: राजधनवार में ऑटो पार्ट्स की दुकान में लगी भीषण आग, लाखों का नुकसान

269

Giridih : जिले के राजधनवार प्रखण्ड स्थित धनवार बाजार में मंगलवार शाम के करीब 4 बजे एक ऑटो पार्ट्स की दुकान में अचानक आग लग गयी और देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया. अगलगी से आस पास अफरा-तफरी का माहौल हो गया. वहीं दुकान के बगल के ऊपर बिल्डिंग में झारखंड ग्रामीण बैंक की शाखा संचालित होने की वजह से बैंक में भी आग लगे होने की अफवाह फैल गयी. हालांकि इस घटना में बैंक के भीतर आग का असर नहीं होने की बात सामने आयी है. वहीं काफी मशक्कत के बाद स्थानीय लोगों के प्रयास से आग बुझा ली गयी.

इसे भी पढ़ेंः खूंटी : ग्रामीणों का आरोप- स्‍कूल में स्थित कैंप के जवान करते हैं महिलाओं से छेड़छाड़, कैंप हटाने की ग्राम सभा ने दी नोटिस (देखें वीडियो)

इसे भी पढ़ेंः रांची नगर निगम : जानिये किस वार्ड में हैं आप, बदल गया है आपका क्षेत्र

hotlips top

फौरन हरकत में आये अधिकारी

अगलगी की सूचना मिलते ही एसडीपीओ प्रभात रंजन बरवार, कार्यपालक दंडाधिकारी नरेश वर्मा, बीडीओ प्यारे लाल, थाना प्रभारी आदि मौके पर पहुंचे. अगल-बगल की दुकानें फौरन खाली करायी गयी. अधिकारियों द्वारा जिले से फायर ब्रिगेड को बुलाया गया. लेकिन काले धुएं का गुब्बार व आग की लपटें बढ़ने लगी. इस दौरान स्थानीय लोगों की मदद से डीजल पम्प के सहारे आग बुझाने की कोशिश की गयी. वहीं पानी टैंकर आदि मंगवाकर लगभग आग बुझा ली गयी. अंत में फायर ब्रिगेड की टीम ने पहुंच कर आग को पूरी तरह से बुझा दिया. लेकिन तब तक सब कुछ जलकर खाक हो चुका था. इस बाबत दुकान के मालिक महेंद्र वर्णवाल ने बताया कि इस घटना में लगभग 5 से 6 लाख की संपत्ति जल गयी है. हालांकि आग कैसे लगा इसकी जानकारी नहीं लग पायी है.

Related Posts

demo

इसे भी पढ़ेंः पत्थलगड़ी के नाम पर लोगों को भड़काने वालों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई : झारखंड सरकार

इसे भी पढ़ेंः झारखंड सरकारी कर्मचारियों को सांतवा वेतनमान के भत्ते पर कैबिनेट की मुहर, राज्य निर्वाचन आयोग की हरी झंडी के बाद मिलेगा लाभ

हो सकता था बड़ा हादसा

बता दें कि आग जहां लगी वहां काफी सारी दुकानें हैं एवं जिस ऑटो पार्ट्स की दुकान में आग लगी इसके ठीक ऊपर झारखंड ग्रामीण बैंक की शाखा है. ऐसे में लोग यदि फायर ब्रिगेड का इंतजार में रहते तो काफी बड़ा नुकसान हो सकता था. लेकिन स्थानीय लोग की सक्रियता से एक बड़े हादसे को टाला जा सका. यहां यह भी बता कि पूरे अनुमंडल क्षेत्र में यदि कही अगलगी होती है तो इसके लिये कोई खास व्यवस्था नहीं है लोगों को ऐसी परिस्थिति में स्वयं पर निर्भर रहना होता है. यदि जिले से अग्निशमन विभाग की गाड़ी आती भी है तब तक काफी नुकसान हो चुका होता है. लोगों का कहना है इसको लेकर कम से कम अनुमंडल क्षेत्र में व्यवस्था होनी चाहिए.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like