Uncategorized

गवाह नहीं आने से सुनवाई टली, लौटना पड़ा लालू को, लोगों को दी गणतंत्रता दिवस की शुभकामना, किया भाजपा से सचेत

Ranchi : न्यायाधीश प्रदीप कुमार की अदालत में गुरुवार को लालू यादव उपस्थित हुए. डोरण्डा कोषागार मामले को लेकर सुनवाई की जानी थी. कोर्ट में सीबीआई के तरफ से गवाह को पेश किया जाना था. लेकिन गवाह उपस्थित नहीं हो सके जिस कारण शनिवार तक के लिए सुनवाई टाल दी गयी. लालू प्रसाद यादव के अधिवक्ता अनंत कुमार ने न्यायालय की कार्यवाही के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि उनके मुवक्किल लगातार सीबीआई को सहयोग कर रहे हैं. लेकिन सीबीआई खुद गवाह को लाने में असमर्थ नजर आ रही है.

शनिवार फिर कोर्ट में पेश होंगे लालू

फिलहाल कोर्ट ने इस मामले पर अगली सुनवाई की तारीख शनिवार को दी है. 27 जनवरी को एक बार फिर लालू को कोर्ट में हाजिर होना होगा.

इसे भी पढ़ें : निकाय चुनाव को लेकर कांग्रेस ने शुरु की तैयारी, नेताओं को बांटे जिलों के प्रभार 

लालू ने कहा देशवासियों को सजग रहने की जरूरत

सीबीआई के विशेष न्यायालय से निकलने के बाद राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि लोकतंत्र और संविधान पर एक पार्टी लगातार हमला कर रही है. इशारों-इशारों में केंद्र की सत्ताधारी दल पर हमला करते हुए कहा कि पार्टी लोकतंत्र की जड़ को कमजोर करने में लगी है. देशवासियों को सजग रहने की जरूरत है. सुप्रीम कोर्ट के चार जजों के प्रेस कॉन्फ्रेंस करने के मामले को लेकर भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा.

राजद नेता ने भी सीबीआई पर उठाये सवाल

सुनवाई के दौरान राजद के कई नेता कोर्ट परिसर में मौजूद थे. उन्होंने कहा कि राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव कोर्ट में पेशी के लिए लगातार आ रहे हैं लेकिनसीबीआई के गवाह के अनुपस्थित रहने से लालू प्रसाद यादव को लौटना पड़ता हैं. राजद नेता भोला यादव ने इस मामले पर सवाल उठाते हुए कहा कि सीबीआई मामले में जानबूझ कर देरी कर रही है.  

इसे भी पढ़ें : रांची : जेपीएससी मेंस परीक्षा रद्द होने से छात्र निराश, पूछ रहे कि आखिर कब सुधरेगा सिस्टम

लालू ने दी गणतंत्रता दिवस की शुभकामना

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने सभी को गणतंत्र दिवस को लेकर शुभकामना दी. पत्रकारों ने जब पूछा कि चाईबासा मामले में सजा को लेकर हाईकोर्ट जाना है तो जबाब में लालू ने कहा कि इसका जवाब मेरे अधिवक्ता ही दे सकते हैं. वहींइस मामले में जब लालू के अधिवक्ता से पूछा गया तो उन्होंने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया.

इसे भी पढ़ें : जेपीएससी मुख्य परीक्षा रद्द होने पर क्रेडिट लेने की होड़ में सत्ता पक्ष

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button