न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

खूंटी : पुलिस का सूचना तंत्र हुआ मजबूत, चार दिनों में दो सफलता, चार हार्डकोर उग्रवादी हथियार के साथ गिरफ्तार

108

Khunti : कर्रा के नगड़ा जंगल के पास रविवार की सुबह छापेमारी कर पीएलएफआई के एरिया कमांडर तिलकेश्वर गोप गिरोह के चार उग्रवादियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया. इनमें सुखदेव सिंह, चंद्र किशोर गोप, अकबर गोप (सभी बकसपुर साकेटोली निवासी) सहित नगड़ा निवासी अर्जुन ओहदार शामिल है. पुलिस ने इनके पास से दोनाली बंदूक एक, .315 का राइफल एक, 12 बोर का जिंदा कारतूस 6, .315 के जीवित कारतूस 4, लेवी में प्रयुक्त मोबाइल दो सहित पीएलएफआई का चंदा रसीद के दो बुक बरामद की है. एसपी अश्विनी सिन्हा को गुप्त सूचना मिली थी, जिसके आधार पर पुलिस ने छापेमारी की. एसपी के निर्देश पर ऑपरेशन एएसपी अनुराग राज, कर्रा थाना प्रभारी उदय कुमार गुप्ता, सअनि जवाहर चौधरी ने पुलिस बल के साथ नगड़ा जंगल के समीप पहुंचे. पुलिस को देख सभी अपराधी भागने लगे. पुलिस ने खदेड़कर सभी को गिरफ्तार कर लिया.

इससे पहले गुरुवार 29 मार्च को कर्रा थाना क्षेत्र के रेगरे बगीचा टोली में पुलिस और पीएलएफआई के तिलकेश्वर गोप दस्ते के साथ मुठभेड़ हुआ था. इस मुठभेड़ में पुलिस ने पीएलएफआई के दो नक्सलियों को ढेर कर दिया था. नक्सलियों के पास से दो हथियार, बाइकगोलियांपिट्‌ठू और विस्फोटक आदि बरामद हुए थे. मुठभेड़ में कई नक्सलियों के घायल होने की सूचना है.

इसे भी पढ़ें –  पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में पीएलएफआई के दो उग्रवादी ढेर, हथियार व बाइक बरामद

गुप्त सूचना के आधार पर 29 मार्च को भी छापामारी करने पहुंची थी पुलिस टीम

29 मार्च को हुये मुठभेड़ से पहले रांची एसएसपी को गुप्त सूचना मिली थी कि रांची-खूंटी के बॉर्डर पर स्थित छोटकीरेगरी गांव में नक्सली संगठन पीएलएफआई का एक दस्ता किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए आया हुआ है. इसी सूचना पर रांची एसएसपी कुलदीप द्विवेदी ने अपनी टीम को अलर्ट कियासाथ ही खूंटी पुलिस को भी सूचना दी थी. रांची और खूंटी पुलिस की संयुक्त टीम छोटकीरेगरी गांव में छापेमारी करने पहुंची ही थी कि पीएलएफआई के तिलकेश्वर गोप के दस्ते ने अचानक पुलिस टीम पर हमला बोल दिया था. पुलिस जवानों ने मोर्चा संभालते हुये दो पीएलएफआई नक्सलियों को मार गिराया था. बाकी नक्सली भागने में सफल रहे थे.

इसे भी पढ़ें – CBSE पेपर लीक मामले का खुलासा : शिक्षकों ने सुबह 9:15 बजे पेपर की फोटो क्लिक की और कोचिंग सेंटर के मालिक को भेज दिया, फिर मालिक ने छात्रों में बांट दिया पेपर

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: