न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कोरापुट  :  सुरक्षाबलों ने चार महिला नक्सलियों को मुठभेड़ में किया ढेर  

41

Bhuvneshwar : सुरक्षाबलों को ओडिशा में नक्सल विरोधी अभियान में भारी सफलता मिली है. खबर है कि आंध्र प्रदेश की सीमा से लगे कोरापुट जिले में सुरक्षाबलों ने कार्रवाई करते हुए चार महिला नक्संलियों को ढेर कर दिया है. जानकारी दी गयी है कि नक्सालियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ रविवार देर रात शुरू हुई थी. इस मुठभेड़ की जानकारी एक अधिकारी ने 26 मार्च, सोमवार को पत्रकारों को दी. मुठभेड़ ओडिशा पुलिस और माओवादी नक्समलियों के बीच हुई है. एक समाचार एजेंसी के अनुसार स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) और डिस्ट्रिक्टस वालेंटरी फोर्स (डीवीएफ) के जवान रविवार देर रात डोकारी घाटी में संयुक्त तलाशी अभियान चला रहे थेइसी दौरान नक्सलियों के एक दस्ते से मुठभेड़ हो गयी. इस संबंध में पुलिस महानिरीक्षक (नक्सल विरोधी अभियान) आरपी कोचे ने सोमवार दोपहर बाद तक मुठभेड़ जारी होने की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि मुठभेड़ के दौरान मारी गयी महिला नक्सालियों की शिनाख्त अभी नहीं हो सकी है.

mi banner add

इसे भी पढ़ें –  विकास तिवारी गैंग के 40 लोगों की हत्या करने वाले हैं श्रीवास्तव गिरोह के अपराधी

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में सीआरपीएफ के नौ जवान मारे गये थे 

बता दें कि नक्सलियों ने कुछ दिनों पूर्व छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में सीआरपीएफ गश्ती दल पर हमला कर नौ जवानों को शहीद कर दिया था. सभी जवान बारूदी सुरंग रोधी वाहन से किश्तेराम की ओर जा रहे थे, जब नक्सलियों ने इन्हें निशाना बनाया था. सुरक्षाबलों द्वारा समन्वय के साथ अभियान चलाने के कारण झारखंड और बिहार के कई इलाकों से नक्सलियों को खदेड़ा जा चुका है, हालांकि, छत्तीसगढ़ के कुछ जिलों में नक्सली अब भी बड़ा हमला करने में कामयाब हो रहे हैं और सुरक्षा बलों का टेंशन बढ़ा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें –  पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने संसद नहीं चलने पर मोदी सरकार को राजधर्म की याद दिलाई

Related Posts

पूर्व सीजेआई आरएम लोढा हुए साइबर ठगी के शिकार, एक लाख रुपए गंवाये

साइबर ठगों ने  पूर्व सीजेआई आरएम लोढा को निशाना बनाते हुए एक लाख रुपए ठग लिये.  खबर है कि ठगों ने जस्टिस आरएम लोढा के करीबी दोस्त के ईमेल अकाउंट से संदेश भेजकर एक लाख रुपए  की ठगी कर ली.

महिला नक्सली आंध्र-ओडिशा स्पेशल जोनल कमेटी की सदस्य थीं

आरपी कोचे ने मारी गयी महिला नक्सलियों के संबंध में कहा कि सभी आंध्र-ओडिशा स्पेशल जोनल कमेटी की सदस्य थीं. ओडिशा और आंध्र प्रदेश से लगे सीमावर्ती इलाका नक्सलियों का गढ़ माना जाता है. कोरापुट सहित सीमावर्ती इलाके के मलकानगिरि में भी नक्सली प्रभावी हैं.  इन पहाड़ी इलाकों सहित मलकानगिरि जिले के कई हिस्सों में मौजूद नक्सलियों के खात्मे के लिए इसी साल जनवरी माह में ओडिशा पुलिस, आंध्र पुलिस और सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने एक कार्ययोजना तैयार की थी. साथ ही नक्सलियों को खदेड़ने के लिए तीनों सुरक्षा एजेंसियों ने मिलकर अभियान चलाने का निर्णय लिया था.

इसे भी पढ़ें – क्या आप हैं नरेंद्र मोदी एंड्रॉइड एप यूजर, तो आपकी निजी सूचनाएं ले गयी विदेशी कंपनी, फ्रांसीसी शोधकर्ता का दावा

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: