न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कानपुर में पत्रकार की गोली मारकर हत्या

50

News Wing

Kanpur/Lucknow : उत्तर प्रदेश में कानपुर जिले के बिल्हौर में आज शाम हिन्दी दैनिक में काम करने वाले युवा पत्रकार की अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी. पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) जय प्रकाश ने बताया कि नवीन गुप्ता (35) जब सड़क किनारे स्थित सार्वजनिक शौचालय से निकल रहा था, तभी उस पर गोलियों से हमला कर दिया गया. अस्पताल ले जाते वक्त नवीन की रास्ते में ही मौत हो गयी.

समाचार फैलते ही जिले के तमाम आला अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गये. घटनास्थल पर फोरेंसिक विशेषज्ञों की टीम को भी बुला लिया गया है. प्रमुख सचिव (सूचना) अवनीश अवस्थी ने लखनऊ में बताया कि मुख्यमंती योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर दुख व्यक्त किया है और पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह को निर्देश दिये है कि वह इस मामले की जांच जल्द करवाये और अपराधियों को तुरंत गिरफ्तार करवाये.

यह भी पढ़ें : त्रिपुरा में एक और पत्रकार की हत्या, कमांडेंट के PSO ने मारी गोली

अवस्थी ने बताया कि कानपुर के जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को तुरंत घटनास्थल पर पहुंचने के निर्देश दिये गये है. पुलिस अधिकारियों को अभी इस हत्या के पीछे के कारणों के बारे में जानकारी नहीं है. लेकिन पहली नजर में उन्हें यह कोई पुरानी दुश्मनी का मामला लगता है. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि परिवार द्वारा लिखित शिकायत देने पर मामला दर्ज किया जायेगा. इस बीच पुलिस ने व्यापक तलाशी अभियान छेड़ दिया है लेकिन अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.
स्थानीय पत्रकारों और पत्रकार संगठनों ने इस हत्याकांड के बाद तुरंत एक बैठक बुलाई और पत्रकार की हत्या की कड़े शब्दों में निंदा की. कानपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष अवनीश दीक्षित ने इस घटना की निंदा करते हुये कहा कि पत्रकार के हत्यारों को अगर 24 घंटे के अंदर नही गिरफ्तार किया गया तो पत्रकार आंदोलन करेंगे. उन्होंने पत्रकार के परिजनों को आर्थिक सहायता देने की भी मांग की.

यह भी पढ़ें : पंजाब: मोहाली में वरिष्ठ पत्रकार केजे सिंह और उनकी मां की हत्या
गौरतलब है कि जून 2015 में उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में एक पत्रकार जगेंद्र सिंह की जलाकर हत्या कर दी गयी थी. वह खनन माफिया के घोटालों को उजागर कर रहे थे. अक्टूबर 2015 में प्रदेश के चंदौली जिले में 45 साल के पत्रकार हेमंत यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी. वर्ष 2015 के अगस्त में ही बरेली में अंशकालिक संवाददाता के रूप में हिन्दी दैनिक में काम करने वाले संजय पाठक:42: की हत्या उनके सिर पर किसी भारी वस्तु से प्रहार कर दी गयी थी.

यह भी पढ़ें : त्रिपुरा में टीवी पत्रकार शांतनु भौमिक की हत्या, बीजेपी समर्थक पार्टी पर आरोप

यह भी पढ़ें : बेंगलुरुः वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मारकर हत्या

यह भी पढ़ें : भारतीय राजनीति के बर्बर युग की आधिकारिक उदघोषणा करती है गौरी लंकेश की हत्या

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: