Uncategorized

कानपुरः छापेमारी के दौरान करोड़ों रुपये के पुराने नोट मिले, मामले में16 लोग गिरफ्तार

Kanpur: नोटबंदी के एक साल से ज्यादा होने को हैं लेकिन अभी भी पुराने नोटों का मिलना खत्म नहीं हो रहा. हाल ही में झारखंड के जमशेदपुर में लाखों रुपये के पुराने नोट कबाड़ में पड़े मिले थे. इसी तरह अब एक बार फिर कानपुर में करोड़ो रुपये के पुराने नोट छापेमारी के दौरान पुलिस ने बरामद किये हैं.

इसे भी पढ़ें: मुख्य सचिवा राजबाला वर्मा व डीजीपी डीके पांडेय को हटाने को लेकर विधानसभा के बाहर हंगामा

क्या है मामला

एनआईए की गुप्त सूचना के आधार पर कानपुर पुलिस ने शहर के विभिन्न होटलों व निर्माणधीन परिसरों में छापेमारी की. छापेमारी के दौरान शहर के स्वरूप नगर इलाके के एक घर से पुलिस को करोड़ों रुपये पुराने नोट मिले. गौरतलब है कि इन नोटों का बिस्तर बनाकर छुपाया गया था. इतनी भारी रकम देख पुलिस भी हैरान रह गयी. एनआईए और स्थानीय सुरक्षा एजेंसियों को विभिन्न स्थानों पर पुराने नोट होने की सूचना मिली थी, जिसके आधार पर एनआईए की टीम और स्थानीय पुलिस ने मिलकर छापेमारी अभियान को अंजाम दे कर भारी मात्रा पुराने नोट बरामद किये.

इसे भी पढ़ें: सिमडेगा की 15 वर्षीय लड़की के साथ गुमला में दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

मामले में 16 लोग गिरफ्तार

पुलिस के अनुसार ये नोट इलाके के काफी नामी और धनी व्यक्ति आनंद खत्री के हैं. नोटबंदी के दौरान आनंद अपने सारे पुराने नोट बैंक में नहीं जमा करा सके क्योंकि पैसे बहुत ही ज्यादा थे. पुलिस के ही अनुसार आनंद ने स्थानीय लोगों को 20 से 25 प्रतिशत का लालच दे कर अपने पुराने नोट बदलवाने की कोशिश की थी लेकिन वह कामयाब नहीं हो सके थे नतीजन उनके पास ये पैसे इकट्ठे हो गये. आनंद खत्री के अलावा पुलिस ने छापेमारी के दौरान कई प्रतिष्ठीत व्यापारियों के प्रतिष्ठानों से भी पुराने नोट बरामद किये है. इतनी भारी मात्रा में पुराने नोट मिलने के बाद पुलिस अलर्ट हो गयी है. मामले की जांच की जा रही है. साथ ही इसी मामले में अबतक करीब 16 लोग गिरफ्तार भी किये जा चुके हैं.

इसे भी पढ़ें: गिरिडीह : क्या सरकार की खराब व्यवस्था ने ले ली बुधनी की जान, विपक्षी नेताओं ने साधा निशाना

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button