न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कस्तूरबा स्कूल की मृत छात्रा के परिजनों ने किया कांके थाना का घेराव, कहा : सुसाइड नहीं, हुआ है मर्डर, हो सीबीआई जांच

19

News Wing Ranchi, 06 December: कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में हुई छात्रा की संदेहास्पद मौत को लेकर मृतका के परिजनों ने कांके थाना का घेराव किया. गुस्साये परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया. परिजनों का कहना है कि चार दिन बीतने के बाद भी पुलिस मामले को लेकर गंभीर नही है. उन्होंने मामले की सीबीआई जांच की मांग की है. मौके पर डीएसपी अमित कच्छप ने परिजनों को बताया कि मामले की जांच की जा रही है. जल्द ही मामले का खुलासा कर दिया जायेगा, लेकिन वे कुछ सुनने को तैयार नहीं थे. लोगों के आक्रोश को देखकर अतिरिक्त पुलिस को तैनात किया गया.

क्या है मामला

तीन नवम्बर को कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय कांके में बारहवीं की छात्रा बबली खातुन का शव बरामद किया गया. स्कूल के हॉस्टल में छात्रा ने उस वक्त फांसी लगा ली जब उसके कमरे की सभी लड़कियां शाम के वक्त खेलने के लिए बाहर निकली थीं. लड़की जब लौटकर आई तो अंदर से गेट बंद था. वार्डन को सूचना देने के बाद गेट को तोड़ा गया तो देखा गया की छात्रा फांसी के फंदे से झूल रही है. छात्रा भीठा गांव की रहने वाली थी.

यह भी पढ़ेंः रांचीः छात्रा ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस

पुलिस की गैर मौजूदगी में खोला गया कमरा

परिजनों ने बताया कि छात्रा की आत्महत्या की सूचना उन्हें नहीं दी गयी थी. परिजनों ने कहा कि वे लोग उसी दिन छात्रा से मिलकर आये थे. उनके वापस लौटने के बाद स्कूल से सूचना दी गयी की बबली के पेट में दर्द हो रहा है. जब वे स्कूल पहुंचे तो बताया गया कि बबली ने खुदकुशी कर ली है. परिजनों ने कहा कि उनके पहुंचे से पहले ही लाश को उतारा गया और घटना की सूचना पुलिस को नहीं दी गयी.

पहले भी हुआ था विवाद

छात्रा के परिजनों का कहना है कि स्कूल में रेशमी मैडम से उसकी किसी बात को लेकर विवाद हुआ था, जिसमें उसे स्कूल से निकालने की धमकी दी गई थी. किसी तरह से मामले को शांत किया गया, लेकिन रेशमी मैडम के इशारे पर कई छात्राओं द्वारा उसे परेशान किया जाता था. जिस दिन छात्रा की आत्महत्या की सूचना मिली उस दिन वह लाल रंग का ड्रेस पहने हुई थी, जब दोबारा परिजन स्कूल गए तो नीले रंग के ड्रेस में शव बरामद किया गया था.

इन बिंदू के कारण हत्या की आशंका

जिस दुपट्टे से शव लटका था वह छात्रा का नहीं था.

लगभग एक घंटे के अंतराल में ड्रेस चेंज भी शक का कारण बताया जा रहा है.

सीसीटीवी कैमरा भी टूटा हुआ था.

पंखे की उंचाई इतनी है की कुर्सी पर चढ़ के पहुंचा जा सके.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: