न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कमर पर 200 बोतलें बांधकर चार किमी. तक तैरकर पीने का पानी लाती है महिला

41

Makassar : इंडोनेशिया के एक गांव में रहने वाली मामा हासरिया अपनी कमर पर करीब200 खाली बोतलें बांधकर रोज तैरते हुए चार किलोमीटर का सफर तय करती है और छोटे से द्वीप सुलावेसी पर अपने समुदाय के लिए स्वच्छ पेयजल लेकर आती है. हासरिया की तरह अन्य स्थानीय महिलाएं भी ऐसा ही करती हैं.

इसे भी पढ़ें: आनेवाले दिनों में बंगलुरु में पानी की बूंद-बूंद को तरस सकते हैं लोग, ‘डे जीरो’ वाले बन रहे हालात: रिपोर्ट

साफ पानी लाने के लिए हर बार एक घंटे का सफर तय करती है महिला

झुलसाने वाली गर्मी के बीच हासरिया मंदार नदी पर एक घंटे का सफर तय करके साफ पानी लाने के लिए नदी के किनारे पर स्थित कुओं तक जाती हैं. 46 वर्षीय हासरिया आसपास की मिट्टी से अपनी बोतलों में पीने योग्य साफ पानी भरती हैं. मिट्टी प्राकृतिक फिल्टर का काम करती है. हासरिया और उनकी साथी महिलाओं को प्रत्येक कैन के लिए मात्र ढाई रुपये मिलते हैं.

इसे भी पढ़ें: फेसबुक डाटा चोरी: कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार का आरोप झारखंड के 27 सीट पर जीत के लिए बीजेपी ने दिया था ठेका

कई बार कर चुके है शिकायत

टीनाम्बुंग प्रांत में रहने वाले करीब 5,800 परिवारों के लिए यह काम काफी अहम है. आज विश्व जल दिवस है और इस साल इसका फोकस वैश्विक रूप से पीने योग्य जल के स्रोतों के लिए‘‘ प्राकृतिक’’ समाधान खोजना है. टीनाम्बुंग के लिए यह एक चुनौती है जहां कई वर्षों से लोग स्वच्छ पेयजल तक सीमित पहुंच की शिकायत कर रहे हैं. हासरिया ने कहा कि हमें पीने और खाना पकाने के लिए पानी लाने धारा प्रवाह के विपरीत दिशा में जाना पड़ता है. इंडोनेशिया में अन्य समुदाय भी ऐसी ही चुनौतियों से दो- चार हो रहे हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: