न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कमरे से दुर्गंध आने के बाद जब तोड़ा गया दरवाजा, फंदे से झूलती मिली लाश

159

Daltonganj : डाल्टनगंज में खुदकुशी की एक घटना से सनसनी फैल गई. पिछले 48 घंटे से अधिक समय से लगातार आ रही दुर्गंध के बाद जब कमरे का दरवाजा तोड़ा गया तो फंदे पर झूलती युवक की लाश मिली. शहर के रिहाइशी इलाकों में शामिल आबादगंज में दो-तीन दिनों से मरे पड़े एक युवक का शव फंदे से लटकता पाया गया. दुर्गंध आने पर बुधवार को मुहल्ले के लोगों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी थी. सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और दरवाजा तोड़कर शव को फंदे से उतारा. 
 

मृतक की हुई शिनाख्त

युवक की पहचान रेहला के गुरहा निवासी ज्ञानेश्वर सिंह के पुत्र राहुल सिंह (25वर्ष) के रूप में हुई है. राहुल अपने फूफा ललन सिंह के आवास पर रहता था. वह यहां रहकर मार्केटिंग का काम करता था. राहुल ने आत्महत्या क्यों की, यह स्पष्ट नहीं हो पाया है. शहर थाना प्रभारी तरूण कुमार ने बताया कि राहुल अकेले रहता था. पुलिस ने हत्या और खुदकुशी के एंगल से मामले की पड़ताल शुरू कर दी है, वहीं मृतक के परिजनों का बयान भी लिया गया है.

इसे भी पढ़ें- सहजन तोड़ने चढ़ा था पेड़ पर, 11 हजार वोल्ट तार की चपेट में आकर हो गयी मौत

अपराधियों के साथ सांठगांठ था राहुल सिंह का 
राहुल सिंह का अपराधियों के साथ भी सांठगाठ था. रेहला में सक्रिय राजा सिंह गिरोह के साथ उसके संबंध थे. अक्सर उसे इस गिरोह के सदस्यों के साथ घूमते देखा गया था. पिछले दिनों राजा सिंह के साथ घूमते देखे जाने पर रेहला पुलिस ने उससे पूछताछ की थी, लेकिन कोई प्रमाण नहीं मिलने पर उसे छोड़ दिया गया था. अंदर ही अंदर वह आपराधिक मामलों में शामिल रहता था. हालांकि रेहला थाने में इसके खिलाफ कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं थी. 

 

इसे भी पढ़ें- युवती की बेरहमी से हत्या : रहस्य में उलझी हत्या की गुत्थी

परिजन मान रहे हत्या
परिजनों ने राहुल की हत्या की आशंका जतायी है. उनका कहना है कि जिस अवस्था में शव पाया गया, उससे आत्महत्या की बाद संदिग्ध लगती है. परिजनों ने मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है, ताकि सच सामने आ सके. राहुल के कमरे से एक मोबाइल भी पाया गया है. मोबाइल की जांच से इस घटना के राज खुल सकते हैं. मौके से किसी तरह का कोई सुसाइट नोट नहीं मिला है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: