न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

एशेज सीरीज के तीसरे टेस्ट पर फिक्सिंग का साया

47

Perth: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद सहित क्रिकेट बोर्डों के प्रमुखों ने एशेज में मैच फिक्सिंग को लेकर किये गये दावों पर ‘गहरी चिंता’ व्यक्त की लेकिन कहा कि आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच गुरुवार से यहां शुरू हुए तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में भ्रष्टाचार का कोई सबूत नहीं मिला है.

सट्टेबाज ने पूर्व और वर्तमान अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के साथ काम करने का दावा किया 

ब्रिटिश समाचार पत्र ‘द सन’ की रिपोर्ट में कहा गया है कि दो सट्टेबाजों ने पर्थ में चल रहे टेस्ट मैच में खेल के फिक्स किये गये हिस्सों को बेचने की पेशकश की थी जिसके आधार पर बड़ी रकम जीतने के लिये सट्टा लगाया जा सकता. इनमें से एक सट्टेबाज भारतीय है जिसे ‘मिस्टर बिग’ नाम से जाना जाता है. एक सट्टेबाज ने विश्व कप विजेता आलराउंडर सहित पूर्व और वर्तमान अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के साथ काम करने का दावा किया है. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि उन्होंने आस्ट्रेलियाई क्रिकेट के एक फिक्सर के साथ संपर्क किया जिसे ‘द साइलेंट मैन’ के रूप में जाना जाता है. इसमें आस्ट्रेलिया या इंग्लैंड के किसी खिलाड़ी का नाम नहीं दिया गया है. समाचार पत्र ने कहा कि उनके अंडरकवर रिपोर्टर से एक ओवर में कितने रन बनेंगे जैसे स्पाट फिक्स करने के लिये 140,000 पौंड तक की धनराशि मांगी गयी थी.

यह भी पढ़ें: रोहित के तूफान में उड़ा श्रीलंका, 141 रन से जीता भारत

मैच से पहले मैं आपको बताऊंगा कि इस ओवर में इतने रन बनेंगे: सट्टेबाज

रिपोर्ट में एक सट्टेबाज के हवाले से कहा गया है, ‘‘मैच से पहले मैं आपको बताऊंगा कि इस ओवर में इतने रन बनेंगे और फिर आप उस ओवर पर अपना सट्टा लगा सकते हो. ’’ सट्टेबाज से पूछा गया कि क्या उसकी जानकारी बिल्कुल सही है, उसने कहा, ‘‘पूरी तरह से सही जानकारी. ’’ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने इस खुलासे पर ‘गहरी चिंता’ व्यक्त की और उसने जांच शुरू कर दी है लेकिन विश्व संस्था को नहीं लगता कि यह मैच फिक्स है. इंग्लैंड इस मैच में में पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला में 0-3 से पिछड़ने से बचने की कोशिश करेगा.

यह भी पढ़ें : T20 में फिर आया क्रिस गेल का तूफान, 18 छक्के जड़ रचे कई रिकॉर्ड

शुरुआती जांच में ऐसा कोई संकेत नहीं मिला कि कोई खिलाड़ी कथित फिक्सरों के संपर्क में है: मार्शल

आईसीसी के भ्रष्टाचार निरोधक प्रमुख एलेक्स मार्शल ने कहा, ‘‘इस मसले पर द सन या फिर हमारी जांच के आधार पर मेरे शुरूआती आकलन में ऐसा कोई सबूत नहीं मिला जिससे यह कहा जा सके कि वर्तमान टेस्ट मैच को फिक्स किया गया है. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘अभी तक जांच से ऐसा कोई संकेत नहीं मिला है कि इस टेस्ट में खेलने वाला कोई खिलाड़ी कथित फिक्सरों के संपर्क में है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: