न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

एम्स से डिस्चार्ज हुए लालू यादव लौटेंगे रिम्स, खुद को बताया सियासी साजिश का शिकार

115

Ranchi :  बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के स्वास्थ्य में सुधार का हवाला देते हुए एम्स ने उन्हें जिस्चार्ज कर दिया है. मंगलवार को लालू दिल्ली से रांची आ जाएंगे. उन्हें नई दिल्ली-रांची राजधानी एक्सप्रेस से रांची लाया जाएगा. लालू प्रसाद यादव को राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (रिम्स) में भर्ती कराया जाएगा. दिल्ली एम्स में 29 मार्च से उनका इलाज चल रहा था. रिम्स के मेडिकल बोर्ड की सिफारिश पर उन्हें एम्स ले जाया गया था.

 लालू ने एम्स प्रशासन को लिखा पत्र, रिम्स नहीं भेजने का आग्रह

Sport House

इधर, आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने एम्स निदेशक को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि रांची मेडिकल कॉलेज में किडनी के उपचार की समुचित व्यवस्था नहीं है इसलिए उनको वहां नहीं भेजा जाए. पत्र में लालू ने कहा, ‘‘अगर मुझे एम्स से रांची मेडिकल कॉलेज भेजा जाता है और इससे मेरे जीवन पर कोई खतर पैदा होता है तो इसकी पूरी जवाबदेही आप लोगों की होगी.’’ वहीं एम्स के एक प्रवक्ता ने बताया कि आयुर्विज्ञान संस्थान में उपचार से लालू की सेहत में काफी सुधार हुआ है और वह अब यात्रा कर सकते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘उनकी हालत स्थिर है और वह यात्रा करने के लिए फिट हैं. लालू ने एम्स प्रशासन को लिखी चिट्ठी में कई अपने स्वास्थ्य को लेकर कई परेशानियों का हवाला दिया. उन्होंने लिखा है कि उन्हें हृदयरोग, किडनी इंफेक्शन, रक्तचाप, शुगर, कमर दर्द, बार-बार चक्कर आना जैसी बीमारियां हैं. उन्हें समुचित व संतोषजनक इलाज का अधिकार है इसलिए उनका इलाज एम्स में ही होने दिया जाए.

इसे भी पढ़ें- आरोपों में घिरे रेल मंत्री पीयूष गोयल- कंपनी और शेयर बेचने की छिपाई जानकारी, कांग्रेस ने मांगा इस्तीफा

latter

Mayfair 2-1-2020

मेरे खिलाफ राजनीतिक षड्यंत्र : लालू

लालू ने एम्स से डिस्चार्ज होने के बाद कहा कि यह उनके खिलाफ राजनीतिक षड्यंत्र है. उन्होंने कहा, ‘मुझे कुछ हुआ तो इसके लिए सरकार जिम्मेदार होगी. नरेंद्र मोदी के दबाव मुझे एम्स से डिस्चार्ज किया गया है. बिना फिट हुए ही मुझे रिम्स भेजा जा रहा है.‘ 

एम्स में राहुल गांधी ने की थी लालू से मुलाकात
इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को लालू से एम्स में मुलाकात की थी और उनकी सेहत के बारे में जानकारी ली थी. दोनों नेताओं की इस मुलाकात को सियासी नजरिये से काफी अहम माना जा रहा है. 2019 की तैयारी में लगे राहुल को भरोसा है कि आरजेडी अगले चुनावी दंगल में कांग्रेस का मजबूत साथी बनेगा.
 

तेजस्वी ने फैसले पर उठाया सवाल

गौरतलब है कि 26 अप्रैल को तेजस्वी यादव ने अपने पिता लालू यादव से मुलाकात की थी. इसके बाद उन्होंने कहा था कि उन्हें बेहतर इलाज की जरूरत है. उनकी तबीयत में बहुत सुधार नहीं हुआ है. वहीं अब लालू को रांची भेजे जाने को लेकर तेजस्वी यादव ने कहा, ‘समझ नहीं आ रहा है कि यह फैसला क्यों किया गया है. लालू यादव के स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं है. एम्स के लोग ही बता पाएंगे कि ऐसा क्यों किया गया है. लालू यादव का किडनी 60 फीसदी डैमेज है. इस उम्र में उसकी मॉनिटरिंग की जरूरत पड़ती है. इस फैसले से सवाल खड़े होते हैं. 

इसे भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीरः महबूबा कैबिनेट में फेरबदल, 8 नये मंत्रियों ने ली शपथ

मनोज झा ने सरकार को ठहराया जिम्मेदार

Related Posts

demo

इधर आरजेडी प्रवक्ता मनोज झा ने लालू को रिम्स भेजे जाने की खबर आने के बाद कड़ा रिएक्शन देते हुए इसके लिए एम्स प्रशासन और केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा, ‘‘जब लोग राजनीतिक लड़ाई नहीं जीत पाए तो अब स्वास्थ्य से खिलवाड़ का हथकंडा अपना रहे हैं. हम सभी को राजद प्रमुख के स्वास्थ्य की चिंता है.’’

“अधिकारिक सूचना नहीं

रिम्स के प्रभारी निदेशक डॉ. आरके श्रीवास्तव ने कहा कि लालू प्रसाद यादव के आने की हमें कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है. अगर वो आते हैं तो हम तैयार हैं.

रांची जेल में काट रहे सजा 

गौरतलब है कि चारा घोटाला के दो केस में लालू रांची स्थित बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल में सजा काट रहे हैं. लालू यादव को एम्स से रिम्स में शिफ्ट करने की बात से उनका परिवार और आरजेडी समर्थकों में काफी नाराजगी है.

इसे भी पढ़ें- त्रिपुरा: विवादित बयानों पर घिरे देब को पीएम मोदी ने किया तलब, 2 मई को होगी दिल्ली में मुलाकात

 17 मार्च से रिम्स में चल रहा था लालू का इलाज

चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव को रिम्स से एम्स रेफर किया गया था. लालू के शरीर में ब्लड शुगर अपेक्षाकृत कम पाया गया था. सिरम क्रिटनीन की मात्रा बढ़ गई थी. लालू के चेहरे पर सूजन था. उनका इलाज 17 मार्च से रिम्स में चल रहा था. 28 मार्च की शाम चार बजे उन्हें रिम्स से डिस्चार्ज किया गया था. इसके बाद वे राजधानी एक्सप्रेस से दिल्ली रवाना हुए. 29 मार्च को उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था. उनके साथ विधायक भोला यादव भी दिल्ली गए थे.

 रिम्स की नर्सों के साथ खिंचाई थी तस्वीर

मार्च में इलाज के दौरान लालू यादव के साथ रिम्स की नर्सों ने फोटों भी खिंचवाया था. उन्होंने रिम्स के कर्मियों और डॉक्टरों से हल्के-फुल्के अंदाज में बातें की थी. उन्होंने कहा था कि वे सभी को बिहार का परवल खिलाएंगे. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like