न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

उर्दू शिक्षक नियुक्ति विज्ञापन निकाले सरकार नहीं तो होगा आंदोलन – झामुमो अल्पसंख्यक मोर्चा

18

Ranchi : झारखंड मुक्ति मोर्चा अल्पसंख्यक मोर्चा के केंद्रीय महासचिव मोहम्मद जमील खान के नेतृत्व में बिरसा चौक पर एक दिवसीय धरना दिया गया. जिसमें वक्ताओं ने कहा कि राज्य में प्लस टू विद्यालय के लिए शिक्षक की बहाली के लिए सरकार द्वारा जो विज्ञापन निकाला गया है, इसमें उर्दू के शिक्षक का विज्ञापन नहीं है. ऐसे में सरकार का कहना कि सबका साथ सबका विकास यह एक घोर बकवास है. साथ ही वक्ताओं ने कहा कि पूरे राज्य में 5026 उर्दू शिक्षक प्रशिक्षिण लेकर भी  बेरोजगार बैठे हैं. राज्य में आदिवासी, मूलवासी, अल्पसंख्यक को झारखंड सरकार आबादी के अनुपात में नौकरी दे.

इसे भी पढ़ें – बकोरिया कांड का सच-07ः ढ़ाई साल में भी सीआइडी नहीं कर सकी चार मृतकों की पहचान

अफजल खान की लव जिहाद के नाम पर बेदर्दी से हत्या की गयी – वक्ता

साथ ही वक्ताओं ने धरना में कहा कि पिछले दिनों राजस्थान में मजदूर अफजल खान की लव जिहाद के नाम पर बेदर्दी से हत्या की गयी और फिर पेट्रोल छिड़ककर उसे जलाया गया था. इस घटना की घोर निंदा की गई और कहा गया समाज में नफरत के बीज बोने वाली एकमात्र पार्टी भाजपा है. जो अपने वोट के लिए फूट डालो राज करो की नीति अपना कर समाज को बांटने का काम कर रही है, जिसे  झारखंड मुक्ति मोर्चा राज्य में सफल नहीं होने देगी. धरने में सरकार से मांग की गई की अफजल खान के मौत के मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन किया जाय और हत्यारों को फांसी की सजा मिले.

इस धरना को ख्वाजा मुजाहिद मोहम्मद, जुबेर आलम, बुलंद अख्तर, मोहम्मद निजाम अंसारी, मोहिन खान, फिरोज खान, अमजद अली, राजू खान के अलावा अन्य लोगों ने संबोधित किया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: