न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

उद्घाटन से पहले दीवार तोड़कर बाहर निकली दिल्ली मेट्रो, घटना की जांच के आदेश

112

New Delhi :  दिल्ली मेट्रो की ट्रेन कालिंदी कुंज डिपो पर मंगलवार को एक दीवार से टकरा गई. ट्रेन को धुलाई के लिए ले जाया जा रहा था जब वह रैंप पर से पीछे की ओर फिसल गई और दीवार से टकरा गई. 25 दिसंबर  को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस मजेंटा लाइन का उद्घाटन किया जाना है. घटना में कोई हताहत नहीं हुआ.

25 दिसंबर को होने वाले इस लाइन के शुभारंभ पर नहीं पड़ेगा कोई असर

दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (डीएमआरसी) ने घटना की वजह रखरखाव के दौरान हुई ‘‘मानवीय गलती और लापरवाही’’ को बताया है. डीएमआरसी की ओर से कहा गया कि इस घटना का 25 दिसंबर को होने वाले इस लाइन के शुभारंभ पर कोई असर नहीं पड़ेगा. डीएमआरसी के एक अधिकारी ने कहा कि यह खाली ट्रेन मेट्रो की नई पीढ़ी के चालकरहितबेड़े का हिस्सा है जो करीब तीन बजकर 40 मिनट पर फिसल गई और डिपो की चारदीवारी के एक हिस्से से टकरा गई.

hosp1

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र सीएम खुद कर रहे कबूल : बीते छह माह में 2,965 लड़कियां हुईं लापता

ट्रेन को धुलाई के लिए रैंप पर ले जाया जा रहा था

डीएमआरसी ने एक अधिकारी ने कहा कि  ट्रायल ट्रेन को ब्रेक प्रणाली की जांच किए बगैर वर्कशॉप से ले जाया जा रहा था, इसके परिणामस्वरूप जब ट्रेन को धुलाई के लिए रैंप पर ले जाया जा रहा था तब यह पीछे की ओर फिसल गई और चारदीवारी से टकरा गई. ’’ ऐसा लगता है कि यह भिडंत काफी जोरदार रही होगी क्योंकि इस घटना में दीवार से टकराया ट्रेन का पिछला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया और दीवार का एक हिस्सा ढह गया.

भविष्य के परिचालन के दौरान यात्रियों की सुरक्षा से कोई लेनादेना नहीं है

डीएमआरसी की ओर से कहा गया कि कार्यकारी निदेशक स्तर के तीन अधिकारियों की समिति द्वारा उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं. वक्तव्य में कहा गया कि प्रथम दृष्टया यह मानवीय गलती और लापरवाही का मामला लगता है. जांच के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी. ’’ डीएमआरसी के प्रबंध निदेशक मंगू सिंह ने कहा कि उच्च स्तर के स्वचालन के साथ इस लाइन पर मुख्य लाइन के परिचालन पूरी तरह सुरक्षित हैं, यात्री परिचालन के लिए मेट्रो रेल सुरक्षा आयुक्त ने अच्छी तरह जांच के बाद मंजूरी दी है. ’’ उन्होंने कहा कि घटना की वजह रखरखाव में मानवीय गलती है और ट्रायल या इसका भविष्य के परिचालन के दौरान यात्रियों की सुरक्षा से कोई लेनादेना नहीं है. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: