न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

उत्तर प्रदेशः हेलमेट, सीटबेल्ट न लगाने वाले 7583 वाहन चालकों का कटा चालान

29

News Wing

Lucknow, 07 December: उत्तरप्रदेश में सड़क दुर्घटनाओं के प्रति जनता को जागरुक करने के लिए सप्ताह के प्रत्येक बुधवार को हेलमेट और सीटबेल्ट न लगाने वाले दो एवं चार पहिया वाहन चालकों के विरुद्ध व्यापक अभियान चलाया जा रहा है. राज्य सरकार के निर्देश पर परिवहन विभाग एवं गृह विभाग द्वारा संयुक्त रूप से प्रदेश स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है.

5534 का बिना हेलमेट और 2049 का सीट बेल्ट न लगाने वालों का कटा चालान

इस दौरान प्रदेश में 7583 ऐसे दो पहिया एवं चार पहिया वाहन चालक पकड़े गये जिन्होंने वाहन चलाते समय सुरक्षा के दृष्टिगत हेलमेट और सीटबेल्ट नहीं लगा रखा था. इसमें से 5534 का हेलमेट का प्रयोग न करने तथा 2049 का सीट बेल्ट न लगाने के लिए चालान किया गया. साथ ही अभियान के दौरान दो पहिया वाहन के पीछे बैठने वाले व्यक्ति को मानक के अनुरूप हेलमेट लगाने के लिए जागरूक कर सचेत किया गया.

यह भी पढ़ें: चुनाव को लेकर सील हुई भारत-नेपाल सीमा

बुधवार को ‘हेलमेट सीटबेल्ट दिवस’ रूप में मनाया गया

प्रमुख सचिव, परिवहन आराधना शुक्ला ने बताया कि सड़क दुर्घटना देश एवं प्रदेश के लिए गम्भीर समस्या है. इससे बहुत ज्यादा जन-धन की हानि हो रही है. उत्तर प्रदेश सड़क दुर्घटनाओं के मद्देनजर इस समय 9.5 प्रतिशत वृद्धि के साथ पूरे देश में प्रथम स्थान पर है. इसमें कमी लाने के लिए ही प्रदेश सरकार प्रत्येक बुधवार को ‘हेलमेट सीटबेल्ट दिवस’ के रूप में मना रही है. उन्होंने कहा कि लोग सड़क सुरक्षा उपायों को अपनाएं , यातायात नियमों का पालन करें तो सड़क दुर्घटनाएं कम होंगी तथा प्रदेश को आर्थिक एवं जन नुकसान भी नहीं होगा और लोगों के परिवार भी सुखी रहेंगे.

यह भी पढ़ें: तीन तलाक सम्बन्धी विधेयक के मसौदे पर योगी सरकार ने जताई सहमति

यातायात नियमों एवं सड़क सुरक्षा उपायों का उल्लंघन करने पर होगी कार्रवाई 

उन्होंने कहा कि नियमों का कड़ाई से पालन कराने के लिए ही प्रत्येक बुधवार को इस प्रकार का विशेष चेकिंग अभियान पूरे प्रदेश में चलाया जा रहा है. साथ ही लोगों को जागरुक भी किया जा रहा है. फिर भी लोग यदि यातायात नियमों एवं सड़क सुरक्षा उपायों का उल्लंघन करेंगे तो इनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: