Uncategorized

आप ने की राज्यसभा उम्मीदवारों की घोषणा, रास नहीं भेजे जाने पर छलका कुमार विश्वास का दर्द, कहाः मुझे दंडित किया गया

New Delhi : आम आदमी पार्टी ने अपने राज्यसभा उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी है. संजय सिंह, सुशील गुप्ता और एन डी गुप्ता को उम्मीदवार बनाया गया है. संजय सिंह पार्टी गठन के समय से ही आप से जुड़े हुए हैं. सुशील गुप्ता दिल्ली के एक कारोबारी हैं और एन डी गुप्ता एक चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर हुई एक बैठक में यह निर्णय लिया गया जिसमें पार्टी के करीब 56 विधायकों ने हिस्सा लिया. पार्टी की राजनीतिक मामलों की समिति (पीएसी) ने कुछ देर बाद ही बैठक के और निर्णय को औपचारिक रूप से मंजूरी दी. गौरतलब है कि 70 सदस्यीय दिल्ली विधानसभा में आप को पूर्ण बहुमत प्राप्त है और उसके सभी तीनों सीटों पर जीत हासिल करने की पूरी उम्मीद है. राज्यसभा सीटों के लिए नामांकन दायर करने की अंतिम तिथि पांच जनवरी है.

11 नामों पर चर्चा के बाद फाइनल हुए तीन नाम

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उम्मीदवारों के चयन की औपचारिक घोषणा की. उन्होंने कहा कि देशभर से 18 लोगों के नाम लिए गए. इनमें से 11 नामों पर गहन चर्चा की गई, जिसके बाद तीन नामों को फाइनल किया गया. उन्होंने बताया कि संजय सिंह लंबे समय से पार्टी से जुड़े रहे हैं और उन्होंने पूरा जीवन संघर्ष में लगाया है. वहीं नारायण दास गुप्ता सीए एसोसिएशन के प्रेसिडेंट रहे हैं, साथ ही वो इकोनॉमी पर काम करने वाली संस्थाओं में रहे हैं. गुप्ता के बारे में सिसोदिया ने बताया कि इन्होंने भारत सरकार के साथ मिलकर बड़े पैमाने पर आर्थिक नीतियों में इनपुट दिया है. सुशील गुप्ता के बारे में उन्होंने बताया कि वो एजुकेशन और हेल्थ सेक्टर से जुड़े हैं. दिल्ली और हरियाणा में सुशील गुप्ता का हेल्थ में काफी योगदान रहा है. वो 15 हजार बच्चों को फ्री एजुकेशन देते हैं. इनके हॉस्पिटल चलते हैं. चार बड़े चैरिटेबल हॉस्पिटल चल रहे हैं.

इसे भी पढ़ें: अब संयुक्त राष्ट्र में भी हिन्दी को मिल जायेगी आधिकारिक भाषा की मान्यता, सरकार के प्रयास जारी

सच बोलने के लिए किया गया दंडित

उधर राज्यसभा सीट के उम्मीदवार बनने की आस लगाए बैठे असंतुष्ट नेता कुमार विश्वास ने पीएसी बैठक में भाग नहीं लिया. उम्मीदवारों के नाम के ऐलान के बाद कुमार विश्वास ने कहा कि मुझे सर्जिकल स्ट्राइक, टिकट वितरण में गड़बड़ी, जेएनयू समेत अन्य मुद्दों पर सच बोलने के लिए मुझे दंडित किया गया है. मैं इस दंड को स्वीकार करता हूं. कुमार ने कहा कि सब अपनी लड़ाई लड़ रहे हैं. आप अपनी लड़ रहे हैं, मैं अपनी लड़ रहा हूं. मैं बहुत शुभकामाएं देता हूं जिनको रामलीला मैदान के लिए चुना है. मैं अरविंद और पूरी पार्टी जिन लोगों ने तय किया है उनको बधाई देता हूं. नवनीत बना कर भेजा है देश के सर्वोच्च सदन में जहां अटल और इंदिरा की आवाज गूंजी है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button