न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आईटी सेक्टर में बंपर भर्तियां कर रहीं दिग्गज कंपनियां

13

News Wing

Ranchi, 08 December: 2017 में आईटी कंपनियों ने अब तक ज्यादातर कैम्पसों में बल्क में हायरिंग की है. हर कंपनी ने अपने पसंदीदा कॉलेज जाकर बड़े पैमाने पर ग्रैजुएट्स को भर्ती किया है. इसके चलते ही यह माना जा रहा है कि आईटी में एक बार फिर से बूम आ गया है.

आईआईटी कानपुर से 59 स्टूडेंट्स का किया गया चयन 

दिग्गज आईटी कंपनी इंटेल ने आईआईटी कानपुर के 59 स्टूडेंट्स की एक साथ भर्ती की है. कंपनी ने हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के प्रोफाइल के लिए लोगों को भर्ती किया है. सॉफ्टवेयर के लिए कंप्यूटर साइंस के स्टूडेंट्स को लिया गया है, जबकि हार्डवेयर के लिए कंपनी ने इलेक्ट्रिकल इंजिनियरिंग के छात्रों पर भरोसा जताया है.आईआईटी रुड़की के प्लेसमेंट हेड एन.पी. पाधी ने कहा, ‘मैं आईटी सेक्टर में ग्रोथ देख रहा हूं. बड़े पैमाने पर भर्ती करने वाली कंपनियां बेहद सतर्क हैं. उन्हें जब अच्छे स्लॉट मिलते हैं और वह जब हमारे 9 बिंदुओं के साथ इंटर्नशिप करने वाले छात्रों से मिलते हैं तो हायरिंग से खुद को रोक नहीं पाते.’ 

एक बड़ी लहर की शुरुआत होने जैसा

कुछ कंपनियों के साथ प्लेसमेंट हेड्स की बातचीत कुछ ही लोगों की नियुक्ति के लिए बात होती है, लेकिन बाद में वे इससे अधिक संख्या में रिक्रूटमेंट करते हैं. पाधी कहते हैं, ‘वह यहां 5 से 6 छात्रों के प्लेसमेंट का मूड बनाकर आए थे, लेकिन अंतत: 23 लोगों को मौका मिल गया.’ हालांकि बल्क रिक्रूटमेंट अब भी बड़े ब्रैंड्स की ओर से ही हो रही है, ऐसे में यह एक बड़ी लहर की शुरुआत होने जैसा ही है.

आईआईटी बॉम्बे में सैमसंग ने लिया 30 छात्रों को 

आईआईटी बॉम्बे की बात करें तो सैमसंग ने यहां से 30 छात्रों को भर्ती किया है. इनमें से 15 को कैम्पस प्लेसमेंट के जरिए लिया गया है, जबकि इतने ही छात्रों को प्री-प्लेसमेंट ऑफर के तहत जगह दी गई है. कंपनी की ओर से हायर के लिए गए छात्रों को कोरिया, नोएडा, दिल्ली और बेंगलुरु के दफ्तरों में प्लेस किया जाएगा.बीते साल सैमसंग ने यहां से सिर्फ 22 छात्रों को ही प्लेसमेंट दी थी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: