न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अवैध खनन किया तो सिर्फ रॉयल्टी ही नहीं बल्कि देनी होगी खनिज कीमत की दोगुनी राशि

28

NEWS WING
Ranchi, 06 November :
अगर आप यह सोच रहे हैं कि खनन का पट्टा मिलने के बाद आप खनन करना शुरू कर देंगे तो अब ऐसा नहीं है. खनन विभाग के नए कानून के मुताबिक अब आपको खनन करने से पहले JSMDC (Jharkhand State Mineral Development Corporation) से अनुमति लेनी होगी. JSMDC को बताना होगा कि खनन कैसे किया जाएगा. इसमें पर्यावरण का ख्याल कैसे रखा जा रहा है. इन सारी बातों पर जब JSMDC राजी होगा इसके बाद ही कोई पट्टाधारी खनन कर सकता है. ऐसा प्रदूषण को रोकने और पर्यावरण का ख्याल रखने के मद्देनजर किया जा रहा है. 

अवैध खनन अब पड़ेगा महंगा

पहले अवैध खनन करते पकड़े जाने पर दोषी खननकर्ता से रॉयल्टी की राशि वसूली जाती थी. लेकिन, इस कानून में भी सरकार की तरफ से परिवर्तन किया गया है. अब अगर आप अवैध खनन करते हुए पकड़े गए तो आपको रॉयल्टी के अलावा खनिज के कीमत की दोगुनी राशि देनी होगी. सरकार ने यह  कदम सूबे में हो रहे अवैध खनन पर रोक लगाने के लिए उठाया है. 

यह भी पढ़ें : देश में सबसे ज्यादा प्रदूषण फैलाने वाले पावर प्लांट में से एक है टीटीपीएस, केंद्रीय प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड ने उत्पादन बंद करने का दिया निर्देश

वैध पट्टाधारी से लेनी होगी खनिज

सूबे भर में कोई भी ठेकेदार अपने काम में अवैध खनन के सामग्री का इस्तेमाल करते पकड़ा जाए तो उसपर अब कठोर कार्रवाई करने के कानून को सरकार ने हरी झंडी दे दी है. ठेकेदार को यह साबित करना होगा कि उसने खनिज वैध पट्टाधारी से ही ली है. ऐसा नहीं करने पर जुर्माने के रूप में खनिज की रॉयल्टी के अलावा खनिज के बराबर की कीमत भी वसूली जाएगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: