Uncategorized

अल्पसंख्यक अधिकार दिवसः मंत्री ने गिनायीं उपलब्धियां, दूसरे वक्ता ने कहा अधिकार दिवस केवल मनायें नहीं, दें भी

Ranchi: झारखंड सरकार और झारखंड राज्य अल्पसंख्यक आयोग की ओर से रांची के गुरुनानक स्कूल में विश्व अल्पसंख्यक दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया. भव्य आयोजन किया गया. इस मौके पर कार्यक्रम की मुख्य अतिथि लुईस मरांडी ने कहा कि सरकार अल्पसंख्यकों के समावेशी विकास के लिए प्रतिबद्ध है. अल्पंख्यकों के सभी समुदायों के उनके अधिकारों को दिलाने के लिए प्रयासरत है. केंद्र और राज्य सरकार की ओर संचालित कई योजनाओं का लाभ इन समुदाय के बिच पहुंच रहा है. कार्यक्रमों के माध्यम से अल्पसंख्यक समाज के प्रतिनिधियों से सुझाव मांगा जा रहा, ताकि और बेहतर विकास किया जाए.  इस मौके पर मंत्री ने घोषणा की है कि नए साल से अल्पसंख्यक वर्ग के बच्चों के लिए नई उड़ान योजना समेत कई स्कीम शुरू की जाएगी. नई उड़ान के तहत छात्र-छात्राओं को उच्च शिक्षा की तैयारी में आर्थिक मदद की जाएगी. नई रोशनी योजना के अंतर्गत महिलाओं को स्वावलंबी बनाया जाएगा, वहीं सीखो और कमाओ स्कीम के माध्यम से अल्संख्यक महिलाओं को कौशल विकास की ट्रेनिंग दी जाएगी. रांची में कौशल विकास कॉलेज खोला जाएगा. इसमें ट्रेंडिंग लेकर अल्पसंख्यक युवा देश के अन्य राज्यों के अलावा विदेश जाकर भी आय अर्जन कर सकेंगे. मंत्री सरकार की उपलब्धियां गिना रही थीं और घोषणाओं की झड़ी लगा रही थीं इसी बीच कार्यक्रम में मौजूद क्रिश्यियन समुदाय के प्रतिनिधि डॉ जोसेफ मरियानुश कुजूर ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सिर्फ अधिकार दिवस नहीं मनाए, बल्कि अधिकार दें भी.

इसे भी पढ़ेंः घर-घर बिजली का नाम होगा भगवा क्रांति, जनता इसका दूसरा अर्थ ना लगा लें : रघुवर दास

अल्पसंख्यक समुदायों में असुरक्षा का भाव

मरियानुश कुजूर ने आरोप लगाया कि राज्य में अल्पसंख्यक समुदायों में असुरक्षा का भाव है. विकास का मतलब समावेशी होता है. इसमें जीविका, सुरक्षा और रोजगार प्रमुख मुद्दा होता है. कुजूर ने कहा कि सरकार कुछ गिने-चुने लोगों का ही विकास कर रही है. झारखंड में क्रिश्चियन दोहरी मार झेल रहा है. कभी धर्मांतरण को लेकर, तो कभी आदिवासी क्रिश्चियनों को सिर्फ किश्चियन बताकर उन्हें उनके अधिकारों से वंचित करने कोशिश की जा रही है. सरकार को इसपर ध्यान देना चाहिए.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ेंः गुजरात, हिमाचल में बीजेपी की जीत पर बोले हेमंत – जल्दी ही यह टाइटेनिक की नांव डूब जायेगी

विकास में हो अल्पसंख्यक समुदायों की भागीदारी

कार्यक्रम में मौजूद अल्पसंख्यक आयोग के चेयरमैन कमाल खान ने कहा कि हमारा लक्ष्य विकास है और उसमें अल्पसंख्यक समुदायों की भागीदारी हो. इसी अभियान के तहत सरकार और आयोग काम कर रहा है, और उसका सकारात्मक परिणाम भी आ रहा है. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में मुख्यमंत्री रघुवर दास को पहुंचना था, लेकिन किसी कारण वह नहीं पहुंच पाए.

इसे भी पढ़ेंः देखें वीडियो कैसे एक शराबी लड़की ने देर रात रांची की सड़कों पर मचाया हंगामा, पुलिस लाचार करती रही लेडिज कांस्टेबल का इंतज़ार

रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन

विश्व अल्पसंख्यक अधिकार दिवस के मौके पर रंगारंग कार्यक्रम का भी आयोजन हुआ, जिसमें विभिन्न स्कूलों के छात्र-छत्राओं ने गीत, नृत्य और नाटक की प्रस्तुति दी. कार्यक्रम में मुस्लिम, ईसाई, सिख समेत कई अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने हिस्सा लिया. मौके पर राज्य अलप्संख्यक आयोग के उपाध्यक्ष गुरविंदर सिंह सेठी, गुरुदेव सिंह राजा, अशोक सरांगी, सदस्य जय राज, मो साजिद, नुशरत जहां, हज कमेटी के पूर्व सदस्य इकबाल फातमी, वक्फ बोर्ड के सदस्य मौलाना तहजीबुल हसन, झारखंड मुस्लिम युवा मंच के मो शाहिद, फेडरल अंजुमन के चेयरमैन हाजी नेसार, सेंट्रल मुहर्रम कमेटी के एम सईद समेत कई लोग मौजूद थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button