न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अमेरिकी एयरपोर्ट पर ली गयी पाक के पीएम अब्बासी की तलाशी, पाकिस्तान में मचा हायतौबा

23

New york : पाकिस्तान की मुसीबतें कम नहीं हो रही हैं. अमेरिकी एयरपोर्ट में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी की तलाशी का मामला पाकिस्तान में गहरा गया है.  उल्लेखनीय  है कि अमेरिकी एयरपोर्ट पर अब्बासी को रूटीन सुरक्षा जांच से होकर गुजरना पड़ा है. पाकिस्तानी मीडिया में इसे लेकर हायतौबा मचा है. इसे पाकिस्तान का अपमान बताया जा रहा है. इससे पहले भी अमेरिका वीजा बैन, रक्षा मदद में रोक और कई कंपनियों पर प्रतिबंधित लगाकर पाकिस्तान को करारा झटका दे चुका है. गौरतलब है कि सोमवार को अमेरिका ने पाकिस्तान की सात कंपनियों को परमाणु व्यापार मामले में प्रतिबंधित कर दिया था. 

पाकिस्तान के टीवी चैनल्स पर जो खबरें चल रही हैंउसके अनुसार पीएम शाहिद खाकान अब्बासी को बैग और कोट लिये सिक्यॉरिटी चेक से निकलते हुए अमेरिकी एयरपोर्ट पर देखा गया. अब्बासी  अपनी बीमार बहन को देखने अमेरिका पहुंचे थे. हालांकि  इस दौरान अब्बासी अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस से भी मिले.  

इसे भी पढ़ें – राज्यसभा चुनाव की जीत के बाद यूपीए बना रहा है रणनीति, झारखंड लोकसभा में गठबंधन कर बीजेपी को घेरने की तैयारी

वीडियो जारी, पाकिस्तानी समाचार चैनल इसे शर्मनाक बता रहे हैं

पाकिस्तानी समाचार चैनल पर एंकर्स द्वारा इसे शर्मनाक कहा जा रहा है. एक चैनल ने कहा कि   अब्बासी कह रहे हैं कि वह प्रधानमंत्री हैं और उनके पास डिप्लोमेटिक पासपोर्ट है. साथ ही कहा कि  निजी दौरे जैसी कोई बात नहीं होती और  वह 22 करोड़ देशवासियों के प्रतिनिधि हैं. पाकिस्तान के टीवी चैनल्स पर इस जांच का एक वीडियो भी जारी किया गया है. वीडियो में साफ दिख रहा है कि प्रधानमंत्री अब्बासी की तलाशी ली जा रही है. तलाशी के दौरान अब्बासी अपनी टीशर्ट और बेल्ट दुरुस्त करते दिख रहे हैं. उसके बाद काउंटर से अब्बासी अपना कोट और बैग उठाकर जाते हुए देखे गये. उल्लेखनीय है कि 2011 में भारत के पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की भी न्यूयॉर्क एयरपोर्ट पर तलाशी ली गयी थी. हालांकि  भारत की आपत्ति के बाद अमेरिका ने माफी मांगी थी.

इसे भी पढ़ें – 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: