Uncategorized

अमरनाथ यात्रा शुरू, हिजबुल मुजाहिदीन ने कहा, श्रद्धालुओं को टारगेट नहीं करेंगे!  

Srinagar :  जम्मू के भगवती नगर आधार शिविर से  अमरनाथ यात्रा के लिए पहला जत्था बुधवार सुबह कड़ी सुरक्षा के  बीच रवाना किया गया.  बता दें  कि दक्षिण कश्मीर में स्थित पवित्र अमरनाथ गुफा की यात्रा इस साल 60 दिनों की होगी और  यात्रा 28 जून से शुरू होकर 26 अगस्त तक चलेगी. आतंकी हमले का खतरा होने के बाद भी अमरनाथ यात्रा में शामिल होने के लिए श्रद्धालुओं की संख्या में कोई कमी नहीं आयी है.  लेकिन  इसी बीच एक चौंकाने वाली खबर आयी है. हिजबुल मुजाहिदीन ने यह साफ कर दिया है कि अमरनाथ यात्रा को टारगेट करना उनका मकसद नहीं है.   हिजबुल के ऑपरेशनल कमांडर रियाज नैकू ने  कहा है कि अमरनाथ यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं पर हमला करना हमारा मकसद नहीं है, श्रद्धालु इस बात से आश्वस्त रहें कि हम उनको निशाना बनायेंगे. 

इसे भी पढ़ेंःअमरनाथ यात्रा 28 से, पाकिस्तान स्थित आतंकी बड़े हमले की रच रहे हैं साजिश,मिले इनपुट्स

हिजबुल  के  ऑडियो टेप की प्रमाणिकता की पुष्टि नहीं की गयी है 

ram janam hospital
Catalyst IAS

एक ऑडियो टेप जारी कर  हिजबुल कमांडर ने कहा है कि अमरनाथ यात्रा पर आने वाले श्रद्धालु अपनी परंपराएं पूरी करने आते हैं, वह हमारे मेहमान हैं. जम्मू-कश्मीर में सेना के अभियान ऑपरेशन ऑल आऊट पर टिप्पणी करते हुए हिजबुल कमांडर ने  कहा कि अगर सेना का ऑपरेशन ऑल आऊट सफल था, तो घाटी में एनएसजी कमांडो लाने का क्या मकसद है . हालांकि अभी इस ऑडियो टेप की प्रमाणिकता की पुष्टि नहीं की गयी है. बता दें कि सोशल मीडिया पर वाइरल हो रहे  इस ऑडियो क्लिप में बोल रहा शख्स खुद की पहचान  रियाज नाइकू बता रहा है.  बता दें कि भारतीय सुरक्षा एजेंसिया अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा को लेकर बेहद चिंतित हैं.   कश्‍मीर में बढ़ती आतंकी घटनाओं ने अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा को बढ़ा दिया है.   

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

इसे भी पढ़ेंः  संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार हनन की रिपोर्ट ध्यान देने लायक नहीं : आर्मी चीफ 

जमीन के अलावा  आकाश से भी पूरी यात्रा पर  नजर 

 केंद्र सरकार द्वारा अमरनाथ यात्रा के लिए  रक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं. हेल्‍पलाइन नंबर 1364 जारी किया गया है जो लोगों की मदद करेगा.  वाहनों पर आरएफ आईडी कार्ड  लगाये  जा  रहे  हैं,  जिनसे वाहनों की सुरक्षा सुनिश्‍चित की जा सकेगी. जमीन के अलावा  आकाश से भी पूरी यात्रा के दौरान नजर रखी जायेगी.  अमरनाथ यात्रा के संवेदनशील जगहों पर ड्रोन कैमरों से नजर रखने की तैयारी की जा रही है.  अमरनाथ यात्रा पर आतंकी खतरे का अलर्ट सुरक्षा एजेंसियों ने पहले ही जारी कर दिया था. सुरक्षा एजेंसियों को बार-बार ये इनपुट मिलते रहे हैं कि आतंकी इस बार श्रद्धालुओं को निशाना बना सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.  

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button