Jharkhand Vidhansabha Election

क्यों यह न बने चुनावी मुद्दाः आइएएस-आइपीएस को 5 तारीख तक वेतन, आठ हजार रुपये पानेवाले अनुबंधकर्मियों का महीनों से लटका है मानदेय

Ranchi: आइएएस-आइपीएस जिन्हें लाखों की सैलरी मिलती है, सरकार उन्हें महीने की 5 तारीख तक किसी भी हाल में सैलरी दे देती है. इसके उलट 8 से दस हजार रुपये पानेवाले अनुबंधकर्मियों को सरकार मानदेय देने में साल भर से अधिक का समय लगा देती है.

राज्य के स्वास्थ्य विभाग में काम करनेवाले सभी जिलों के अनुबंधकर्मी कमोबेश एक साल से अधिक से अपने वेतन का इंतजार कर रहे हैं.

जीवनयापन उधार के पैसों से ही हो रहा है. पैसों के आभाव में ईलाज भी नहीं करा पा रहे हैं. राज्य के कई विभागों में काम करनेवाले अनुबंधकर्मियों का भी हाल यही है.

इसे भी पढ़ें – रघुवर दास ने कहा – उनकी सरकार पर दाग नहीं, सरयू राय ने कहा- रघुवर ‘दाग’ ने जो दाग लगाये उसे मोदी डिटर्जेंट व शाह लाउंड्री भी नहीं धो पायेंगे

हर बार आंदोलन और लाठी खाने के बाद ही विभाग के द्वारा उन्हें पैसे दिये जाते हैं. राज्य के सभी जिलों के सरकारी अस्पतालों में काम करनेवालों के बारे में प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार कई ऐसे जिले हैं जहां पर 2017 से सैलरी नहीं मिली है. लगभग सभी जिलों में कार्यरत कर्मी एक साल से अधिक समय से अपने मानदेय का इंतजार कर रहे हैं.

इन जिलों में इतने दिनों से नहीं मिला है मानदेय

गोड्डा- एक साल से नहीं मिला है वेतन, 7 करोड़ बकाया

एमजीएम जमशेदपुर- मई 2019 तक का ही भुगतान, 7 करोड़ बकाया

बोकारो- अप्रैल 2019 के बाद से बकाया, 3.85 करोड़ बकाया.

धनबाद पीएमसीएच- अक्टूबर 2017 से जून 2019 तक का भुगतान नहीं हुआ है. एजेंसी का काम समाप्त हो चुका है. अब पांच एजेंसियों को मिला है काम

गिरिडीह- अप्रैल 2019 से भुगतान लंबित.

जामताड़ा- सितंबर 2018 से अब तक का भुगतान लंबित, 5 करोड़ 50 लाख चाहिए.

गढ़वा- स्वास्थ्य मंत्री के जिला में अप्रैल 2018 से अब तक का भुगतान बकाया है. 6 करोड़ 11 लाख 82570 के साथ 9 करोड़ 44 लाख 71 हजार 766 रुपये.

इटकी रांची- आरोग्यशाला में मई 2019 से अबतक का भुगतान नहीं हुआ है.

पलामू- मार्च 2019 से बकाया.

साहेबगंज- अप्रैल 2019 से अभी तक का बकाया. 10 करोड़ 91 लाख 36 हजार 73 रुपया बकाया है.

रामगढ़- मार्च 2019 से अब तक मजदूरों का नहीं हुआ भुगतान. 1 करोड़ दस लाख रुपया बकाया.

इसे भी पढ़ें – #ElectoralBonds: चुनावी बांड पर RBI ने कहा था- मनी लांड्रिंग को मिलेगा बढ़ावा, मोदी सरकार ने खारिज कर दी थी आपत्ति

इन कर्मियों के लिए इतना वेतन है निर्धारित

चालक14,314 रुपये
कुक10,281 रुपये
परिधापक14,314 रुपये
कंप्यूटर ऑपरेटर14,314 रुपये
सहायक14,314 रुपये
ईसीजी टेक्नीशियन14,314 रुपये
एक्स-रे टेक्नीशियन14,314 रुपये
लैब टेक्नीशियन14,314 रुपये
इलेक्ट्रिशियंस जनरेटर संचालक14,314 रुपये
पोस्टमार्टम हेतु सहायक कर्मी10,281 रुपये
सफाई कर्मी10,281 रुपये
पलंबर14,314 रुपये
कर्मी लॉन्ड्री सर्विस के लिए10,281 रुपये

इसे भी पढ़ें – पार्टी को छोटा कह लोगों ने किया मुंह बंद कराने का प्रयास, बड़ी संख्या में विधानसभा पहुंच देंगे जवाब: आजसू

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: